सरकार के ढाई वर्ष पूरा होने के बाद चुनावी मोड में जाती दिख रही कांग्रेस, शुरु हुआ सम्मेलनों का दौर

Election Mode: कांग्रेस (Congress) के सम्मेलन में वक्ताओं ने कहा- बूथ, सेक्टर व जोन (Zone) के कार्यकर्ताओं के बीच मजबूत नेटवर्क व तालमेल को बरकरार रखना जरूरी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 20 Jun 2021, 11:26 PM IST

अंबिकापुर. छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के ढाई वर्ष पूरे हो गए हैं। इस ढाई वर्ष के बाद कांग्रेस फिर से चुनावी मोड में जाती दिख रही है। 19 जून को यूथ कांग्रेस का सम्मेलन और फिर 20 जून को ब्लॉक कांग्रेस (Block Congress) का कार्यकारिणी सम्मेलन, जिसमें बूथ, सेक्टर, जोन स्तर के कार्यकर्ताओं की सूची तैयार करना और बूथ पर जाकर कमेटी का गठन करने जैसे विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई।


राजमोहिनी देवी भवन में आयोजित ब्लॉक कांग्रेस शहर कार्यकारिणी सम्मेलन को संबोधित करते हुए औषधि एवं पादप विकास बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक ने कहा कि आज का बैठक चुनाव की तैयारी को शुरू करने का आगाज है। बूथ, सेक्टर, जोन एवं सबसे निचले स्तर के कार्यकर्ताओं तक पहुंचिए, उन्हें संगठित करें और उनकी परेशानी, समस्या की जानकारी लें, उसे हल करें।

Video: भाजपा के संबित पात्रा, जेपी नड्डा व स्मृति ईरानी पर इस मामले में कांग्रेसियों ने की एफआईआर की मांग

बूथ, सेक्टर और जोन जब मिलकर कार्य करेंगे तो आगे भी हमारी जीत सुनिश्चित है। हमारे विधायक एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव जब भी अम्बिकापुर पहुंचते हैं, जोन की बैठक लेकर जानकारी हासिल करते हैं कि क्षेत्र में क्या चल रहा है। हमें उनके इस विश्वास को कायम रखना है और तैयारी शुरू कर देनी है।

श्रम कल्याण बोर्ड अध्यक्ष शफी अहमद ने कहा कि अब हम सब सत्ता पक्ष से हैं, इसका मतलब यह है कि हमारी जिम्मेदारी दोगुनी हो गई है, पहले हम जनता की समस्या सुन कर आवाज उठाते थे, आज हमें समस्या को हल करना है, इसलिए बूथ, सेक्टर, जोन एवं ब्लॉक स्तर पर जाकर सबकी सुनें और उस कार्य को कैसे कर सकते हैं, किसके जरिये हो सकता है।

ब्लॉक अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष, मंत्री जिनके माध्यम से भी करा सकते हैं प्रयास करें, कार्य हो न हो, प्रयास नहीं छोडऩा है, कार्यकर्ताओं के साथ खड़े होकर संघर्ष करना है। सरगुजा में हम सब के मुखिया टीएस सिंहदेव लगातार समस्याओं को सुनते हैं और एक-एक कार्यकर्ताओं को सुनते हैं।

निश्चित ही हम सब समस्याओं का बेहतर हल कर सकते हैं, यह भी ध्यान रखना है कि सत्ता में हैं तो सब समस्या एक बार में समाप्त हो यह सम्भव नहीं, इसलिए यदि कुछ नहीं हो पा रहा है तो उदास नहीं होना है। आगे प्रयास करें इस साल नहीं तो अगले साल समस्या का हल होगा। कार्य सरकार की कार्ययोजना एवं बजट के आधार पर होते हैं, इसलिए एक साथ सब कार्य होंगे यह सम्भव नहीं।

कार्यक्रम को प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष जेपी श्रीवास्तव, जिला पंचायत अध्यक्ष मधु सिंह, द्वितेंद्र मिश्रा, अरविंद सिंह गप्पू, मधु दीक्षित, बंटी शर्मा, संध्या रवानी, शैलेन्द्र प्रताप सिंह, हेमंत तिवारी, हेमन्ती प्रजापति, मो. इस्लाम, सैयद अख्तर ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष हेमंत सिन्हा ने किया।

Video: कछुआ चाल में चल रहा नेशनल हाइवे-130 का निर्माण, कांग्रेसियों ने एक घंटे किया चक्काजाम


महापौर बोले- जब तक हम संगठित हैं तब तक अजेय
महापौर डॉ. अजय तिर्की ने कहा कि संगठन में शक्ति है जब तक हम संगठित है अजेय हैं, जब बिखरे पराजय सामने होगी। जिला कांग्रेस अध्यक्ष राकेश गुप्ता ने कहा कि बूथ, सेक्टर, जोन, ब्लॉक, जिला कार्यकारिणी के आपस में तालमेल को बनाकर रखना है।

10 में हो सकता है 4 काम न भी हों, लेकिन निराश नहीं होना है, उचित मंच पर बात रखते रहें कार्य आज होंगे। हमारी पहचान है संगठन की एकजुटता, कांग्रेस के झंडे के नीचे हम सब एक हैं।


कांग्रेस के झंडे के नीचे सब एक हैं
जिला पंचायत सदस्य आदित्येश्वर शरण सिंह देव ने कहा कि कांग्रेस में बहुत सारे प्रकोष्ठ हैं। सबके अपने अपने अलग-अलग कार्य हैं, लेकिन कांग्रेस के झंडे के नीचे सब एक हैं और जब सबके बीच आपसी तालमेल के साथ कार्य होगा तो वह समाज और ब्लॉक व जिले में दिखेगा।

मैंने अपने चुनाव और कांग्रेस के जिले में पिछले तीन कार्यकाल से जो प्रदर्शन रहा है, उसका कारण है बूथ, जोन, सेक्टर के कार्यकर्ताओं का जबरदस्त नेटवर्क, तालमेल और कठिन मेहनत। उसे बरकरार रखने जिले व ब्लॉक को चाहिए कि लगातार संवाद होता रहे। तभी क्षेत्र में क्या कार्य हो रहा है, क्या कमी है पता चलेगा। एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस, सेवा दल समाज के बीच सामाजिक कार्यों में भी हिस्सा लें।


कार्यक्रम में ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर चुनमुन तिवारी, शैलेन्द्र सोनी, अमित सिंह, संजय सिंह, प्रभात रंजन सिन्हा, विनोद एक्का, जगजीत मिंज, अजय सिंह, चंद्रप्रकाश सिंह, पूर्णिमा सिंह, बबन सोनी, पंकज शुक्ला, रौशन कनोजिया, विनोद जायसवाल, विकल झा, सतीश बारी, आशीष जायसवाल, हिमांशु जायसवाल, अमित तिवारी, कमल सेन, अविनाश, शुभम जायसवाल, ऋषिकेश, विकास शर्मा, सम्पूर्ण जायसवाल, रूही गजाला, शमा परवीन, गीता रजक, नुजहत फतिमा सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned