फेसबुक फ्रेंड ने पीएससी की तैयारी कर रही युवती से नौकरी के नाम पर ठगे 9.30 लाख, रायपुर से गिरफ्तार

Swindle in the name of Job: नौकरी (Job) लगाने के नाम पर युवक ने अपने खाते (Account) में जमा करवा लिए थे रुपए, युवती ने मार्च महीने में युवक के खिलाफ दर्ज कराई थी रिपोर्ट (Logded FIR)

By: rampravesh vishwakarma

Published: 11 Jun 2021, 10:50 PM IST

अंबिकापुर. नौकरी लगवाने के नाम पर युवती के साथ हुई साढ़े 9 लाख की ठगी (Swindle in the name of job) के मामले में गांधीनगर पुलिस (Gandhinagar Police) ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। युवती की पहचान आरोपी से फेसबुक के माध्यम से हुई थी।

आरोपी ने युवती से ठगे गए आधे रुपए अपना कर्ज चुकाकर खत्म कर दिया है, जबकि बाकी के बचे पैसे युवती को वापस कराने पुलिस ने उसके खाते को होल्ड कर दिया है। पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

Read More: एसईसीएल में नौकरी लगवाने के नाम पर 4 लाख रुपए की ठगी, स्कॉर्पियो बेचकर दिए रुपए लेकिन...


शहर के नवापारा स्थित चर्च के सामने निवासी मिथिलेश मालवीय पिता आरडी मालवीय 33 वर्ष की पहचान कुछ महीने पूर्व फेसबुक के माध्यम से नया रायपुर ठाकुरदेवपुर, ऊपरपारा निवासी संतोष निर्मलकर से हुई थी। उसने स्वयं को पीडब्ल्यूडी रायपुर में असिस्टेंट इंजीनियर बताया था।

पहचान के बाद बातचीत शुरू होने पर संतोष ने युवती से पूछा कि तुम क्या करती हो, युवती ने कहा कि वह पीएससी की तैयारी (PSC exam) कर रही है। इस पर आरोपी ने कहा कि पीएससी में मेरी पहचान है, मैं नौकरी लगवा दूंगा। उसके झांसे में आकर युवती ने किस्तों में साढ़ 9 लाख रुपए आरोपी के खाते में जमा कर दिए।

इसके बाद से आरोपी ने युवती की न नौकरी लगवाई और न ही रुपए वापस कर रहा था। तब परेशान होकर युवती ने 9 मार्च 2021 को इसकी रिपोर्ट गांधीनगर थाने (Gandhinagar Police) में दर्ज कराई थी।

Read More: आरक्षक की नौकरी लगवाने के नाम पर युवक से 1 लाख 90 हजार की ठगी, कहा था- मेरी पुलिस ऑफिसरों से अच्छी जमती है


पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल
रिपोर्ट के बाद पुलिस आरोपी की तलाश कर रही थी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी संतोष कुमार निर्मलकर पिता स्व. रामजनक निर्मलकर उम्र 32 वर्ष को उसके निवास ठाकुरदेवपुर ऊपरपारा अभनपुर नया रायपुर से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने उसके खिलाफ धारा 420 के तहत कार्रवाई कर उसे जेल भेज दिया। कार्रवाई में थाना प्रभारी अनूप एक्का, भोज कुमार गुप्ता, रविन्द्र प्रताप Singh, आनंद गुप्ता, राकेश यादव की सक्रिय भूमिका रही।

Read More: मेरी अच्छी पहुंच है, हाईकोर्ट व तहसील में नौकरी लगवा दूंगी कहकर महिला प्यून ने बेरोजगारों से ठगे 31.40 लाख


ठगी की आधी रकम से चुकाया कर्ज
पूछताछ के दौरान आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। उसने ठगी की कुल रकम साढ़े 9 लाख रुपए में से आधी राशि से अपना कर्ज चुकाने की बात स्वीकार की है। पुलिस ने आरोपी द्वारा कर्ज पटाने के बाद बची शेष रकम 4 लाख रुपए युवती को वापस कराने उसके बैंक खाते को होल्ड करा दिया है।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned