इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें

इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें
Minister TS eaten garbage cafe food

Ram Prawesh Wishwakarma | Updated: 09 Oct 2019, 07:05:42 PM (IST) Ambikapur, Surguja, Chhattisgarh, India

Garbage cafe: आधा किलो पॉलीथिन का कचरा लाने पर नाश्ता तथा एक किलो पॉलीथिन के बदले दिया जाएगा भरपेट खाना

अंबिकापुर. स्वच्छता रैंकिंग में देश का दूसरा सबसे साफ शहर बनने के लिए 15 स्थान की छलांग अंबिकापुर नगर निगम ने लगाकर एक कीर्तिमान स्थापित किया था। अब इसे एक पायदान ऊपर ले जाना चाहता है। प्लास्टिक समाज के लिए जहर है। उक्त बातें देश के पहले 'गार्बेज कैफे' (Garbage cafe) का उद्घाटन करते हुए स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने कही।


एक अनोखी पहल 'आधा किलो पॉलीथिन लाओ और मुफ्त नाश्ता पाओ', यह सुनने में बड़ा अजीब सा लगता है। ऐसे में अंबिकापुर नगर निगम व जिला प्रशासन ने एक नयी सोच को विकसित किया है। महात्मा गांधी के 150वीं जयंती पर इस अनूठी पहल की शुरूआत की जा रही है।

Video: इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें

इसे विशिष्ट पहचान दिलाने के लिए और गर्व की अनुभूति कराने के लिए महापौर डॉ. अजय तिर्की, सभापति शफी अहमद, डिप्टी मेयर अजय अग्रवाल, एमआईसी सदस्य व पार्षदगण धन्यवाद के पात्र हंै। इस पहल को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है और लोग सोचना शुरू कर दिए हैं कि देश में पहला गार्बेज कैफे की सोच अंबिकापुर नगर निगम ने विकसित की।

आज यूनाईटेड नेशन में इसपर चर्चा हो रही है। हमने तो इसे नहीं सोचा, लेकिन महापौर डॉ. अजय तिर्की की टीम ने इसे कर दिखाया। पॉलीथिन से निजात दिलाने की दिशा में यह अनूठी पहल है।

Video: इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें

इस दौरान पार्षद अजय अग्रवाल, हेमंत सिन्हा, द्वितेन्द्र मिश्रा, विजय सोनी, पपीन्दर सिंह, जीवन यादव, संजीव मंदिलवार, कलक्टर डॉ. सारांश मित्तर, एसपी आशुतोष सिंह, नगर निगम आयुक्त हरेश मंडावी, निगम ईई सुनील सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।


निजी व्यवसायी को संचालन का जिम्मा
नगर निगम द्वारा प्रतीक्षा बस स्टैण्ड में गार्बेज कैफे संचालन हेतु एक निजी व्यवसायी को काम दिया गया है। यहां कचरे का वजन करने तथा टोकन देने की व्यवस्था की गई है। कोई भी व्यक्ति प्लास्टिक का कचरा लाकर वजन करा सकता है तथा वजन के अनुसार उसे भोजन अथवा नाश्ते का टोकन दिया जाएगा।

गार्बेज कैफे में डायनिंग हाल बना हुआ है जहां बैठकर भोजन एवं नाश्ता आराम से कर सकते हैं। टोकन की सुविधा बस स्टैण्ड के समीप स्थित एसएलआरएम सेंटर में भी मिल सकेगी।

Video: इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें

मंत्री ने कैफे के भोजन का लिया स्वाद
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने गार्बेज कैफे में कचरा जमा करने वाले लोगों से खाने की गुणवत्ता की पूछताछ करते हुए उन्होंने स्वयं ही भोजन का स्वाद लिया और उसे उत्तम गुणवत्ता का बताया। उन्होंने अधिकारियों को खाने के गुणवत्ता को इसी प्रकार कायम रखने के निर्देश दिए।


गार्बेज कैफे में इन्होंने जमा किया प्लास्टिक
बस स्टैण्ट चौकी में पदस्थ आरक्षक अजय विश्वकर्मा, हीरामणी, रूपनी तथा फुलेश्वरी ने 1-1 किलो प्लास्टिक का कचरा जमा कराकर गार्बेज कैफे में भरपेट भोजन किया। इस दौरान मंत्री टीएस सिंहदेव ने विशुनपुर में 50 लाख रुपए की लागत से निर्मित सामुदायिक भवन का भी लोकार्पण किया।

Video: इस शहर में खुला देश का पहला गार्बेज कैफे, स्वास्थ्य मंत्री टीएस ने शुभारंभ कर लिया यहां के खाने का स्वाद, कही ये बातें

रैगपिकर्स को मिलेगा मुफ्त भोजन
अंबिकापुर प्रशासन व नगर निगम रैगपिकर्स (कचरा बीनने वाले) को मुफ्त भोजन देना शुरू कर दिया है। सिर्फ 1 किलो प्लास्टिक कचरा लाने वालों को भरपेट भोजन व आधा किलो प्लास्टिक लाने पर नाश्ता दिए जाने का प्रावधान है।


नाश्ता-खाना में मिलेंगे ये आइटम
० आधा किलो प्लास्टिक में नाश्ता- समोसा, आलू चॉप, ब्रेड चॉप, इडली दिया जाएगा।
० एक किलो प्लास्टिक में- दो सब्जी, 4 रोटी, हाफ चावल, दाल, सलाद, अचार, पापड़, मीठा दही दिया जाएगा।
० कचरे के अलावा कम कीमत पर भी लोगों को खाना दिया जाएगा

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned