बदहवास घर पहुंची बालिका, बोली- मुझे बहुत बड़ी छिपकली ने दौड़ाया, सबने जाकर देखा तो...

Big Lizard: शहर में दोबारा घुसे गोह (Goh) ने बालिका को देखकर दौड़ा लिया, सूचना पर पहुंचे स्नेकमैन सत्यम द्विवेदी (Snakeman Satyam Dwivedi) ने पकड़कर वन विभाग के किया सुपुर्द

By: rampravesh vishwakarma

Published: 11 Jun 2021, 11:48 PM IST

अंबिकापुर. 12 दिन पूर्व शहर के मोमिनपुरा में पकड़ा गया गोह (Goh) फिर से रिहायशी क्षेत्र में पहुंच गया। शुक्रवार की सुबह शिवधारी कालोनी में पहुंचे गोह ने एक बालिका को दौड़ाया और एक बड़े बिल में जा घुसा।

बालिका बदहवास घर पहुंची और बताया कि मुझ़े बहुत बड़ी छिपकली ने दौड़ाया है। जब घरवाले देखने पहुंचे तो गोह बिल से झांक रहा था। इसकी सूचना पर स्नेकमैन (Snakeman) मौके पर पहुंचा और उसे पकड़ लिया गया।

Read More: Video: शहर में कई दिनों से घूम रहा था ये दुर्लभ जीव, स्नेकमैन सत्यम ने पकड़ा


गौरतलब है कि 31 मई को शहर के मोमिनपुरा में एक गोह (छिपकली की बड़ी प्रजाति) देखा गया था। उसे स्नेकमेन सत्यम ने पकड़ कर वन विभाग को सौंप दिया गया था। वन विभाग ने जांच के बाद उसे दूर जंगल में छोडऩे की बजाय संजय पार्क से सटे बांस बाड़ी में छोड़ दिया था।

इससे गोह एक बार फिर से शहर की ओर ही आ गया। शुक्रवार सुबह प्रतापपुर चौक के पास पंचानन होटल के पीछे गोह घूम रहा था, जहां पर एक बालिका ने उसे देखा तो गोह उसकी ओर दौड़ पड़ा। इसके बाद बालिका चिल्लाते हुए अपने घर की ओर भागी।

बालिका ने बड़ी सी छिपकिली द्वारा उसे दौड़ाने की बात जब परिजनों को बताई तो पहले उन्हें विश्वास नहीं हुआ, क्योंकि कुछ दिनों पूर्व ही एक गोह के पकड़े जाने की जानकारी उन्हें थी। परिजनों ने जब बाहर जाकर देखा तो बाहर एक बड़े बिल में घुस चुके गोह द्वारा अपना सिर बाहर निकाला जा रहा था।

Read More: Video: किले व बड़ी दीवारों पर चढऩे सैनिक करते थे छिपकली की प्रजाति के इस दुर्लभ जीव का उपयोग

यह देख लोगों ने उसे सांप समझा और इसकी जानकारी स्नेकमैन सत्यम द्विवेदी को दी। सत्यम व उसकी टीम ने लोगों का भय दूर करते हुए एक बार फिर से गोह को पकड़ लिया। गोह को पकडऩे के बाद उसे लेकर सत्यम व उसकी टीम वहां से चली गई।


इस बार दूर जंगल में छोड़ेंगे
डीएफओ पंकज कमल (Surguja DFO) ने बताया कि पूर्व में गोह को पकड़कर उसकी जांच कर बांस बाड़ी में छोड़ दिया गया था। उसके फिर से शहर में आने की सूचना पर उसे पुन: पकड़ लिया गया है और इस बार उसे दूर जंगल में छोड़ा जाएगा।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned