स्वास्थ्य मंत्री की दो टूक, अब एवरेज परफार्मेंस वाले डॉक्टरों को भेजा जाएगा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

Minister TS: जीवनदीप समिति की बैठक में शामिल हुए स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister), कहा- डॉक्टरों व स्टाफ की पर्याप्त संख्या के बावजूद रेफरल अस्पताल (Referal hospital) न बनकर रह जाए

By: rampravesh vishwakarma

Published: 30 Jan 2021, 10:37 PM IST

अंबिकापुर. स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव (Health Minister) की अध्यक्षता में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उदयपुर में जीवनदीप समिति की बैठक हुई। बैठक में जीवनदीप समिति द्वारा पिछले एक वर्ष का आय एवं व्यय का ब्योरा प्रस्तुत किया गया। इसके साथ ही अस्पताल के लिए उपकरण एवं मानव संसाधन की उपलब्धता पर चर्चा की गई।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Primary health center) अब 50 बिस्तरों का हो गया है। मरीजों को यहां अच्छी स्वास्थ्य सुविधा मिलनी चाहिए। चिकित्सकों एवं स्टाफ की पर्याप्त संख्या रहते हुए भी यह केवल रेफरल अस्पताल बनकर न रह जाए।

उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में पदस्थ चिकित्सकों के परफार्मेंस के रेकॉर्ड संभाग स्तर पर संधारित किए जाएं। जिन चिकित्सकों (Doctors) का परफार्मेन्स औसत होगा, उन्हें पीएचसी में पदस्थ किया जाएगा।


स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि अस्पताल आने वाले मरीजो एवं जनप्रतिनिधियों के साथ संवेदनशील व्यवहार करें। इस अस्पताल में अब सामान्य ऑपरेशन भी शुरू करें ताकि मेडिकल कालेज पर निर्भरता कम हो। उन्होंने अस्पताल में निश्चेतक एवं चौकीदार की भर्ती के लिए शासन को प्रस्ताव भेजने कहा।

उन्होंने आयुष्मान योजना के तहत अधिक से अधिक हितग्राहियों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। बैठक में जनपद अध्यक्ष भोजवंती सिंह, जिला पंचायत सदस्य राजनाथ सिंह, राधा रवि, एसडीएम विश्वदीप, संयुक्त कलक्टर प्रदीप साहू, सीएमएचओ डॉ. पीएस सिसोदिया सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।


अस्पताल में लगेगी एक्सरे मशीन
बैठक में अदानी कंपनी को पूर्व में लिए गए निर्णय के अनुसार 300 से 500 एमबी का एक्सरे मशीन लगाने कहा गया। इसके साथ ही अस्पताल में शुद्ध पेयजल हेतु लगाए गए आरओ सिस्टम को सुधारने के निर्देश दिए गए।

बैठक में बताया गया कि जीवनदीप समिति को पिछले एक वर्ष में 15 लाख 86 हजार 768 रुपए प्राप्त हुआ था जिसमें से अब तक 12 लाख 79 हजार 479 रुपए व्यय हुआ है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned