आईपीएल टी-20 मैच में सट्टा खिलाते 2 सटोरिए गिरफ्तार, 2 लाख 70 हजार रुपए जब्त

IPL T-20 cricket: पुलिस की संयुक्त टीम ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर की कार्रवाई, हर ओवर व हर गेंद (Every over and ball) पर लगाया जा रहा था दांव

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 25 Oct 2020, 10:58 PM IST

अंबिकापुर. आईपीएल (IPL T-20 cricket) टूर्नामेंट शुरू होते ही शहर में सट्टा खिलाने का बाजार गरम हो जाता है। कई लोग हार जीत पर लाखों रुपए का दांव लगाते हैं। आईपीएल मैच के दौरान टीम के साथ-साथ ओवर व गेन्द पर भी दांव लगाया जाता है। इस सट्टे के खेल में कई लोग लाखों रुपए के कर्ज में चले जाते हैं।

विशेषकर युवा वर्ग सट्टे के मकडज़ाल में बुरी तरह फंसता जा रहा है। इस अवैध कारोबार में शहर की पुलिस अब तक बड़े सटोरियों (Bookies) तक नहीं पहुंच पाई है। इस वर्ष आईपीएल मैच (IPL Cricket match) के दौरान पुलिस अब तक कई सटोरियों को गिरफ्तार की है पर ये सब इस अवैध कारोबार के छोटे खिलाड़ी हैं।

Read More: IPL टी-20 क्रिकेट में सट्टा लगवाते शहर के 5 सटोरिए गिरफ्तार, 1 लाख 29 हजार नकद समेत लाखों के सट्टा पट्टी जब्त

इसी कड़ी में कोतवाली व मणिपुर चौकी की संयुक्त टीम ने दो और छोटे सटोरियों को गिरफ्तार किया है। दोनों अलग-अलग स्थान पर सट्टा खिलाने का काम कर रहे थे। पुलिस ने इनके पास से 2 लाख 70 हजार रुपए नकद व तीन मोबाइल जब्त किया है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया है।


शनिवार को कोतवली पुलिस पेट्रोलिंग में निकली थी। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि शहर के भातुपारा में एक घर में आईपीएल मैच के दौरान सट्टा ख्लिाया जा रहा है।

कोतवाली व मणिपुर चौकी पुलिस की संयुक्त टीम ने एक घर में छापेमारी की। यहां भातुपारा निवासी आनंद कुजूर पिता सट्टा खिलाते पाया गया। पुलिस ने उसके पास से ढाई लाख रुपए नकद व दो मोबाइल भी जब्त किया है।

Read More: आईपीएल टी-20 क्रिकेट में सट्टा लगवाते 3 सटोरिए गिरफ्तार, 3 लाख नकद व 50 लाख की सट्टा-पट्टी जब्त


बौरीपारा से भी एक सटोरिया (Bookies) गिरफ्तार
वहीं शहर के बौरीपारा में छापेमारी कर रविकांत जायसवाल को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने सट्टा (Speculators) खिलाने की बात स्वीकार की। पुलिस ने उसके पास से 20 हजार रुपए नकद व एक मोबाइल जब्त किया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर जेल भेज दिया है।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned