scriptKaam ki khabar: Because of this a red strip is made on medicine packet | दवाइयों के पैकेट पर इस वजह से बनी होती है लाल पट्टी, खाने से पहले जरूर कर लें जांच | Patrika News

दवाइयों के पैकेट पर इस वजह से बनी होती है लाल पट्टी, खाने से पहले जरूर कर लें जांच

Kaam Ki Khabar: दवा कंपनियों द्वारा दवाइयोंं के पैकेट (Medicines packets) पर लाल रंग की पट्टी खींची जाती है, कई बार हम अनजाने में बिना डॉक्टर की सलाह लिए मेडिकल स्टोर (Medical Store) से दवाइयां खरीदकर खा लेते हैं, यदि दवाइयों के पैकेट पर लाल रंग की पट्टी (Red strip) बनी है और आपने उसे बिना डॉक्टर की सलाह के लिया है तो...

अंबिकापुर

Published: December 02, 2021 02:52:53 pm

Kaam Ki Khabar: बिना डॉक्टर की सलाह लिए कोई भी दवा खाने से परहेज करना चाहिए। ये बात तो हम सब जानते हैं, इसके बावजूद हम कई बार सीधे मेडिकल स्टोर से दवाइयां खरीदकर खा लेते हैं। यह कई बार घातक भी हो जाता है। यदि आप बिना डॉक्टर की सलाह या पर्ची पर लिखी दवाइयों को मेडिकल स्टोर से खरीदते हैं तो पैकेट पर बनी लाल पट्टी जरूर देख लें। यह लाल पट्टी बड़े काम की चीज है। दवा कंपनियां स्वयं द्वारा निर्मित दवाइयों के पैकेट पर लाल रंग की पट्टी अंकित करते हैं, ऐसी दवाइयों का सीधा संबंध डॉक्टर से होता है। इसका मतलब है कि बिना डॉक्टर की पर्ची के ये दवाएं नहीं लेनी है। कई लोगों को यह पता नहीं होता है।
Red strip on medicines
Kaam Ki Khabar

यदि हम किसी से पूछे कि दवाइयों के पैकेट पर लाल रंग की पट्टी क्यों बनी होती है तो अधिकांश लोग इसका जवाब नहीं दे पाएंगे। कई बस यही कहेंगे कि यह दवा कंपनियों की डिजाइन है। हमें यह जानना जरूरी है कि यह सिर्फ डिजाइन नहीं है बल्कि यह एक्सपायरी डेट की ही तरह बड़े काम की चीज है। कई बार हम मेडिकल स्टोर से दवाइयां खरीदने के बाद एक्सपायरी डेट तो चेक कर लेते हैं लेकिन लाल पट्टी के बारे में अनजान होते हैं।
यह भी पढ़ें
अपना आधार कार्ड कर लें लॉक ताकि कोई न कर सके इसका मिस यूज, ये है लॉक करने का प्रोसेस


इस कारण बनी होती है लाल पट्टी
दवाइयों के पैकेट पर लाल पट्टी बनने का मतलब है कि इन दवाइयों को आपको बिना डॉक्टर के प्रिसक्रिप्शन के नहीं लेना है। इनमें एंटीबायोट्क्सि प्रमुख होती हैं।
यह जानकारी वर्ष 2016 में स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार (Ministry of Health) ने ट्वीटर पर एक पोस्ट शेयर कर दी थीं। ऐसे में हम पट्टी देखकर जांच कर सकते हैं कि हमें ये दवा कैसे खानी है। बिना पट्टी वाली दवाइयों को बिना डॉक्टरी सलाह के खाने से सेहत पर बुरा असर नहीं पड़ता है।
यह भी पढ़ें
गुप्त रोग से परेशान हैं तो इलायची है रामबाण इलाज, इन 10 रोगों में भी है फायदेमंद


मेडिकल स्टोर से खरीदते समय ये करें जांच
अब से यदि आप डायरेक्ट मेडिकल स्टोर (Medical Store) से ऐसी दवा खरीदते हैं जिसे डॉक्टर ने नहीं लिखा है तो संचालक द्वारा दिए गए दवाइयों के पैकेट पर लाल पट्टी (Red Strip) की जांच जरूर कर लें। ऐसे में आप जान जाएंगे कि उक्त दवा बिना डॉक्टर के सलाह के खानी है या नहीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपीकेशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे तालकोरोना के नए मामलों में भारी उछाल, 24 घंटे में 2.82 लाख से ज्यादा केस, 441 ने तोड़ा दम5G से विमानों को खतरा? Air India ने अमरीका जाने वाली कई उड़ानें रद्द कीPM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामNEET Counselling 2021: राउंड 1 के लिए रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ऐसे करें आवेदनIPL Auction: किस टीम के पास बचा कितना पैसा? जानें मेगा ऑक्शन से जुड़ी सारी डिटेलशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.