सरकारी शराब दुकान में महिलाओं ने जड़ा ताला, एसडीएम बोले- ये सरकार का मामला, जब तक...

Government Liquor Shop: शहर के गंगापुर में सरकारी शराब दुकान का महिलाओं व सामाजिक संगठनों (Social organisations) द्वारा लगातार किया जा रहा है विरोध, दुकान (Liquor shop) को अन्यत्र ले जाने कई बार किया जा चुका है प्रदर्शन

By: rampravesh vishwakarma

Published: 11 Sep 2021, 06:47 PM IST

अंबिकापुर. शहर के गंगापुर में शासकीय शराब दुकान संचालित किया जा रहा है। रिहायशी इलाकों में शराब दुकान संचालित किए जाने का स्थानीय महिलाओं द्वारा कई बार विरोध किया जा चुका है।

सामाजिक संगठनों के साथ गंगापुर मोहल्ले की महिलाओं ने शनिवार को शराब दुकान के समीप विरोध प्रदर्शन किया और दुकान में तालेबंदी कर दी। सूचना पर एसडीएम व तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और प्रदर्शन कर रही महिलाओं को समझाइश दी। एसडीएम ने क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ाए जाने का आश्वासन दिया।


गौरतलब है कि अंबिकापुर स्थित गंगापुर में शासकीय शराब दुकान संचालित है, जो कि रिहायशी इलाका है। यहां लोगों द्वारा बैठकर शराब सेवन किया जाता है और शराब सेवन कर गाली-गलौज की जाती है।

liquor_shop1.jpg

इससे स्थानीय लोगों को परेशानी होती है। इसे लेकर स्थानीय लोगों ने शराब दुकान अन्यत्र स्थान पर ले जाने की मांग जिला प्रशासन से कई बार की है। जिला प्रशासन द्वारा कोई विशेष पहल नहीं किए जाने से स्थानीय महिलाओं में आक्रोश है।

शनिवार को सामाजिक संगठनों के साथ स्थानीय महिलाओं ने शराब दुकान के समीप विरोध प्रदर्शन कर वहां तालेबंदी कर दी। सूचना पर एसडीएम और तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं को समझाइश दी।

Read More: यूपी-एमपी से घटिया शराब लाकर सरकारी दुकानों के पीछे मिनी फैक्ट्री में की जा रही मिलावट, अधिकारी भी मिले हुए


इस दौरान संकल्प यूथ क्लब समाज सेवी संस्था के अध्यक्ष अंकुर सिन्हा, प्रवक्ता आचार्य दिग्विजय सिंह, लीड केयर फाउंडेशन के अध्यक्ष लव कुमार दुबे, राष्ट्रीय महान गणतंत्र पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुजान बिंद, जिलाध्यक्ष सुरेश राम बुनकर, रजनी बिंद, अनिता साहनी, सुनीता, सरोज समेत रीता भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित रहीं।

liquor_shop2.jpg

एसडीएम ने सुरक्षा बढ़ाए जाने का दिया आश्वासन
स्थानीय महिलाओं द्वारा शराब दुकान में तालेबंदी (Lock) किए जाने की सूचना पर एसडीएम प्रदीप साहू, तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। चर्चा के दौरान एसडीएम (SDM) ने महिलाओं से कहा कि यह शासन का मामला है।

Read More: शराब दुकानों से इस बार शासन को मिलेगा 37 करोड़

जब तक आदेश नहीं आ जाता तब तक शराब दुकान (Liquor Shop) हटाना संभव नहीं है। उन्होंने आश्वासन दिलाया कि क्षेत्र में सुरक्षा बढ़ाई जाएगी।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned