पीडब्ल्यूडी प्रभारी ने अवैध वसूली पर लगाई फटकार, दो टूक कहा- ऐसी शिकायतें नहीं की जाएंगीं बर्दाश्त

MIC meeting: एमआईसी की बैठक में भडक़े पीडब्ल्यूडी प्रभारी शफी अहमद, निगम की प्रमुख सडक़ का नाम स्व. राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के नाम से रखने पर लिया गया निर्णय

By: rampravesh vishwakarma

Published: 07 Mar 2020, 08:05 PM IST

अंबिकापुर. निगम के डाटा सेंटर में महापौर की अध्यक्षता में शनिवार की दोपहर मेयर इन कौंसिल की बैठक हुई। बैठक में कई महत्वपूर्ण एजेंडों पर चर्चा की गई। इस दौरान एमआईसी सदस्य शफी अहमद ने भवन शाखा में कार्य में लापरवाही व अवैध वसूली की शिकायत पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए फटकार लगाई।

उन्होंने दो टूक कहा कि इस तरह की शिकायतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 के पुनरीक्षित एवं वित्तीय वर्ष 2021-22 के प्रस्तावित बजट की स्वीकृति संबंध में विचार विमर्श किया गया। निगम के महापौर डॉ. अजय तिर्की ने शनिवार की दोपहर निगम के डाटा सेंटर में एमआईसी सदस्यों की बैठक ली।

इस दौरान एमआईसी सदस्य व नगर निगम के सभी विभाग के कर्मचारी उपस्थित थे। इस दौरान एमआईसी ने विभिन्न एजेंडों पर चर्चा की। सरगुजा के राजमाता के सम्मान एवं स्मृति स्वरूप निगम क्षेत्र के प्रमुख सडक़ का नाम देवेंन्द्र कुमारी सिंह देव के नाम से रखने व किसी चौराहे पर उनकी आदमकद प्रतिमा स्थापित करने पर निर्णय लिया गया। इसके लिए एमआईसी सदस्यों ने खरसिया रोड का नामकरण उनके नाम पर रखने का निर्णय लिया।

बैठक में एमआईसी सदस्य द्वितेंद्र मिश्रा, शैलेंद्र सोनी, गुड्डू मेराज, गीता प्रजापति, शमा परवीन, निगम आयुक्त हरेश मंडावी व अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।


भवन शाखा में गड़बड़ी पर हुए नाराज
लोक निर्माण विभाग के प्रभारी शफी अहमद ने भवन शाखा में कार्य में लापरवाही व अवैध वसूली की शिकायत पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए फटकार लगाई। उन्होंने दो टूक कहा कि इस तरह की शिकायतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। उन्होंने निगम आयुक्त से कहा कि वर्ष 2018 से कई मामले पेडिंग पड़े हुए हंै। इसे तत्काल पूर्ण कराएं। एक माह के अंदर भवन शाखा से अनुमति मिलनी चाहिए। अगर किसी दस्तावेज में कमी है तो उसे पत्राचार करें।


हर वार्ड में पीडीएस दुकान
महापौर डॉ. अजय तिर्की ने एजेंडे में शामिल पीडिएस दुकानों के संबंध में भी एमआईसी सदस्यों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने बताया कि निगम क्षेत्र के सभी परिवारों का राशन कार्ड संभवत: बन चुका है। ४८ वार्ड में मात्र ३६ ही पीडीएस दुकान है। पीडीएस दुकान में ज्यादा भीड़ न हो और हितग्राहियों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो इसके लिए हर वार्ड में पीडीएस दुकान खोलने पर चर्चा की गई।


पहचान पत्र किया जाएगा जारी
अवैध वसूली रोकने के लिए निगम के सभी कर्मचारियों को पहचान पत्र जारी किया जाएगा। शहर में ठेले व छोटे व्यापारियों से अवैध वसूली रोकने के लिए निगमसभी कर्मचारियों को पहचान पत्र जारी करेगा।


वर्ष 2020-21 में घाटे का बजट
वित्तीय वर्ष 2020-21के प्रस्तावित बजट पर चर्चा की गई। वर्ष 2019-20 में पेश बजट के मुताबिब इस वर्ष घाटे का बजट पेश करने की अनुमान है। इस वर्ष आय 4 अरब 27 करोड़ 60 लाख 64 हजार रुपए तथा व्यय 4 अरब 27 करोड़ ८७ लाख ४ हजार का अनुमान है।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned