स्वास्थ्य मंत्री टीएस बोले- महाकवि कालिदास ने यहां की थी मेघदूतम् की रचना, विश्व की है प्राचीनतम नाट्यशाला

स्वास्थ्य मंत्री टीएस बोले- महाकवि कालिदास ने यहां की थी मेघदूतम् की रचना, विश्व की है प्राचीनतम नाट्यशाला

Ram Prawesh Wishwakarma | Publish: Jun, 17 2019 07:28:53 PM (IST) Ambikapur, Surguja, Chhattisgarh, India

दो दिवसीय रामगढ़ (Historical place) महोत्सव का पंचायत व स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने किया शुभारंभ, रामगढ़ की पहाड़ी ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक धरोहर के रूप में है स्थापित

अंबिकापुर. आषाढ़ के प्रथम दिवस पर दो दिवसीय रामगढ़ (Historical place) महोत्सव का शुभारंभ राजमोहनी देवी भवन में पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव (Cabinet minister TS Singhdeo) ने किया। सर्वप्रथम भारतीय संस्कृति की परंपरा का निर्वहन करते हुये अतिथियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित किया गया।

इस अवसर पर लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम, जिला पंचायत अध्यक्ष फूलेश्वरी सिंह, महापौर डॉ. अजय तिर्की, सभापति शफी अहमद उपस्थित रहे।


मंत्री टीएस सिंहदेव ने लोगों को रामगढ़ महोत्सव (Ramgarh festival) की बधाई देते हुये कहा कि यह महोत्सव प्रति वर्ष मनाया जाना वाला ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक उत्सव है। उन्होंने कहा कि हमारे संस्कृति को अक्षुण्ण रखते हुए उसकी महत्ता को भावी पीढिय़ों तक पहुंचाने के लिए ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक स्थलों को सहेजना होगा।

 

TS inaugrated Ramgarh mahotsava

उन्होंने कहा कि सरगुजा में अनेक पुरातात्विक धरोहर विद्यमान है, धरोहरों की रक्षा और शोध के माध्यम से इतिहास के पथ की जानकारी मिलती है। इतिहास से हमें मानव उपस्थिति के प्रामाणिक साक्ष्य मिलते हैं। इससे हमें मानव चिंतन तथा मानव इतिहास को किन-किन परिस्थितियों से गुजरना पड़ा इसकी भी जानकरी प्राप्त होती है।

टीएस ने कहा कि रामगढ़ की पहाड़ी ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक धरोहर (Historical place) के रूप में तथा विश्व के प्राचीनतम् नाट्यशाला के रूप में अपनी पहचान स्थापित की है। रामगढ़ महोत्सव के द्वारा इस ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक धरोहर को और करीब से जानने का अवसर प्राप्त होता है।

उन्होंने कहा कि महाकवि कालिदास ने अपने खण्ड काव्य मेघदूतम् (Meghdootam) की रचना रामगढ़ की पहाड़ी में की थी जो संस्कृत की श्रेष्ठ काव्यों में से एक है। इस आयोजन से स्थानीय तथा राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर के कलाकारों को मंच मिल सकेगा।

 

People

मानव इतिहास से जुड़ा है रामगढ़
लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम ने कहा कि प्राचीन काल से रामगढ़ की पहाड़ी का संबंध मानव इतिहास से जुड़ा हुआ है। जिला पंचायत अध्यक्ष फूलेश्वरी सिंह ने रामगढ़ महोत्सव की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि रामगढ़ महोत्सव सरगुजा की संस्कृति का सुंदर संगम है।

महापौर डॉ. अजय तिर्की ने कहा कि रामगढ़ महोत्सव सरगुजा (Surguja) के सांस्कृतिक धरोहर की पहचान है। सरगुजा संभाग में अनेक पुरातात्विक स्थल हैं। इन स्थलों का शोध के माध्यम से जन समान्य तक इसकी महत्ता पहुंचाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि पुरातात्विक स्थलों को पर्यटन स्थल के रूप में भी विकसित किया जा सकता है, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।


रामगढ़ के अनछुए पहलुओं की मिलेगी जानकारी
कलक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने कहा कि सरगुजा को सरगजा भी कहा जाता है जिसका तात्पर्य स्वर्ग की बेटी होती है। उन्होंने कहा कि रामगढ़ की पहाड़ी में सीता बेंगरा, जोगीमारा, पुरातत्ववेत्ताओं के लिए उत्सुकता का विषय है।

रामगढ़ की गुफा महाकवि कालिदास की मेघदूतम् की रचना स्थली है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी में रामगढ़ के विशेष संदर्भ को रखा गया है। इस विषय से रामगढ़ के अनछुए पहलुओं की सार्थक जानकारी मिलेगी।


शोध पत्र का वाचन और कवि सम्मेलन
शुभारंभ अवसर पर वेदाचार्य डॉ. निलिम्प त्रिपाठी, रूबी सिद्दीकी, ललित शर्मा, राज नारायण द्विवेदी, संतोष कुमार दुबे, मीना वर्मा, चारूचंद्र, कमल पटेल, पूर्णिमा पटेल, सीमांचल त्रिपाठी सहित 33 शोधार्थियों के द्वारा शोध पत्र का वाचन किया गया।

कार्यक्रम के द्वितीय सत्र में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमें यादव विकास, अंजनी सिन्हा, देवेन्द्र दुबे, राजेश पाण्डेय, रंजीत सारथी, मीना वर्मा, डॉ. पुष्पा सिंह, विनोद हर्ष, संतोष दास, अमरीश कश्यप, प्रकाश कश्यप, मुकुन्दलाल साहू, आयज शुक्ला, मधु गुप्ता, गीता द्विवेदी, माधुरी जायसवाल, पूनम दुबे, अंचल सिन्हा, अर्चना पाठक, राजलक्ष्मी पाण्डेय, पूर्णिमा पटेल, दिग्विजय तोमर, आयशा अहमद खान, सपन सिन्हा, शिरीन खान, अजय चतुर्वेदी एवं विजय सिंह दमाली द्वारा गीत, गजल एवं कविता प्रस्तुत किया गया।


ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर आइजी केसी अग्रवाल, पुलिस अधीक्षक आशुतोष सिंह, अपर कलक्टर कुलदीप शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम चंदेल, एसडीएम अजय त्रिपाठी, नगर निगम के उप सभापति अजय अग्रवाल, विधायक प्रतिनिधि बालकृष्ण सहित अन्य जन प्रतिनिधि, अधिकारी-कर्मचारी, शोधार्थी एवं बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

सरगुजा की ऐसी ही खबरे पढऩे के लिए क्लिक करें- Chhattisgarh Unique story

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned