घर से निकली किशोरी 35 घंटे बाद रात में बेहोशी की हालत में मिली, युवकों ने जमकर पीटा फिर खिलाई नशे की गोली

Minor girl beaten: गंभीर हालत में किशोरी का अस्पताल (Hospital) में चल रहा इलाज, पिता ने चौकी में गांव के ही युवकों के खिलाफ दर्ज कराई है शिकायत

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 29 Sep 2020, 08:32 PM IST

अंबिकापुर. बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर चौकी अंतर्गत निवासी एक किशोरी घर से निकलने के 35 घंटे बाद बेहोशी की हालत में (Girl found unconscious) मिली। सोमवार की देर रात उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। होश में आने के बाद उसने पिता को सारी बात बताई। इस मामले में फिलहाल पिता ने चौकी में लिखित शिकायत दर्ज कराई है।

उसने गांव के ही एक युवक पर बेटी से छेड़छाड़ तथा दूसरे युवक पर जमकर मारपीट करने, गला दबाने व नशे की गोली खिलाने का आरोप (Minor girl beaten) लगाया है। पिता ने मामले में पुलिस ने कार्रवाई की मांग की है। वहीं डॉक्टरों ने किशोरी की जांच की तो उसके शरीर पर चोट के ढेरों निशान मिल हैं। शिकायत पर पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।

ये भी पढ़े: दोस्त की बर्थ-डे पार्टी से लौट रही थी युवती, रास्ते में दोस्त की ही बिगड़ गई नीयत, फिर...


वाड्रफनगर चौकी अंतर्गत निवासी 55 वर्षीय ग्रामीण ने अपनी बेटी के साथ मारपीट, गला दबाने व नशे की गोली खिलाकर बेहोश करने की शिकायत दर्ज कराई है। उसने शिकायत में बताया है कि उसकी 14 वर्षीय बेटी 27 सितंबर की सुबह लकड़ी लेने जंगल की ओर गई थी। इसके बाद वह पूरी रात घर नहीं लौटी।

28 सितंबर की रात 8.30 बजे वह घर लौटी और बताई कि लिपाई-पोताई के लिए जंगल से मिट्टी लेकर आने के दौरान गांव का ही एक युवक उससे छेड़छाड़ (Molesting) करते हुए जमीन पर पटक दिया।

ये भी पढ़े: बाइक से पीछा करते पहुंचे युवक ने मां के सामने उसकी 16 वर्षीय बेटी के फाड़ दिए कपड़े, फिर किया ये

यह देख कुछ लडक़े वहां पहुंचे तो वह भाग निकला। फिर वहां पहुंचे लडक़े में से ने जमकर मारपीट की। बेटी ने जब विरोध किया तो उसने उसका गला दबा (Press throat) दिया और जबरदस्ती गोली खिला दी।

ग्रामीण ने बताया कि बेटी की हालत काफी गंभीर है, उसे वाड्रफनगर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसने पुलिस ने मामले में कार्रवाई की मंाग की है। फिलहाल किशोरी का पूरा मेडिकल चेकअप अभी नहीं किया गया है। किशोरी के शरीर पर काफी गहरे चोट के निशान मिले हैं। (Crime news)

ये भी पढ़े: हॉस्टल में कंप्यूटर ट्रेनर नेत्रहीन छात्रा से करता था शर्मनाक हरकत, परेशान छात्रा ने पी लिया ऑलआउट


ये बात भी आ रही सामने
किशोरी के मामले में पत्रिका को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार किशोरी अपने घर से करीब आधा किमी दूर बेहोशी की हालत में मिली थी। गांव के जिन दबंगों द्वारा किशोरी से हैवानियत की गई है, वे उसके परिजन पर समझौता करने का भी दबाव बना रहे हैं।

सोमवार की रात बेहोशी (Unconscious) की हालत में मिली किशोरी को जब अस्पताल लाया जा रहा था तो दबंगों ने उन्हें ले जाने से रोका था। चाइल्ड लाइन (Child line) के पदाधिकारियों की शिकायत पर जब पुलिस मौके पर पहुंची तब किशोरी को अस्पताल लाया गया।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned