नर्सों की ये बात सुनकर खुश थी मां, फिर हुआ कुछ ऐसा कि कोख में ही बच्चे की हो गई मौत, मच गया बवाल

नर्सों की ये बात सुनकर खुश थी मां, फिर हुआ कुछ ऐसा कि कोख में ही बच्चे की हो गई मौत, मच गया बवाल

Ram Prawesh Wishwakarma | Publish: May, 18 2019 06:54:24 PM (IST) Ambikapur, Surguja, Chhattisgarh, India

प्रसूता के परिजन ने प्रसव में लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर किया हंगामा, मां का रो-रोकर बुरा हाल

लखनपुर. स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव के दौरान मां की कोख में ही नवजात ने दम तोड़ दिया। इससे पिता व परिजन का रो-रोकर बुरा हाल हो गया, उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल में प्रसव में देरी व लापरवाही किए जाने से नवजात की मौत हुई है।


ग्राम तुरगा निवासी संतोष यादव अपने परिजनों के साथ १६ मई की रात महतारी एक्सप्रेस से गर्भवती पत्नी अंजू यादव का प्रसव कराने लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आया था। यहां भर्ती कराने के बाद परिजन को स्टाफ नर्सों ने सुरक्षित प्रसव का भरोसा दिलाया। इस पर परिजन संतुष्ट होकर नवजात का दुनिया में आने का इंतजार करने लगे।

वे काफी खुश थे। इसी दौरान देर रात लगभग 2 बजे महिला की प्रसव पीड़ा बढ़ गई, इस पर परिजन ने नर्सों को बुलाकर लाया तो उन्होंने प्रसुता को जिला अस्पताल रेफर करने की बात कही।

इस बीच काफी समय बीत गया। फिर सुबह करीब 8 बजे परिजन ने बीएमओ डॉ. पीएस केरकेट्टा से चर्चा की तो उन्होंने प्रसव में समय लगने की बात कही। इसके बाद प्रसव के दौरान ही महिला कोख में नवजात की मौत हो गई, जिसके शव को ऑपरेशन कर निकाला गया।


नवजात को गोद में लेकर रोते रहे परिजन, डॉक्टर बोले नहीं हुई लापरवाही
परिजन नवजात के शव को गोद में लेकर बिलखने लगे। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों व नर्सों पर प्रसव के दौरान लापरवाही का आरोप लगाया। इस संबंध में बीएमओ डॉ. केरकेट्टा ने बताया कि प्रसव के दौरान बच्चे की मौत हुई है, किसी प्रकार की लापरवाही नहीं हुई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned