विद्यार्थी बोले- ऑनलाइन ही हो 10वीं-12वीं बोर्ड की परीक्षा, जैसी शिक्षा-वैसी परीक्षा की तख्ती लेकर की नारेबाजी

Online exam: आजाद सेवा संघ के जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में प्रशासन (Administration) को सौंपा गया ज्ञापन, एक दिन पूर्व बलरामपुर जिले में छात्र-छात्राओं ने सड़क पर बैठकर किया था प्रदर्शन (Protest)

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 03 Apr 2021, 09:09 PM IST

अंबिकापुर. आजाद सेवा संघ सरगुजा के जिलाध्यक्ष रचित मिश्रा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के नाम प्रशासन को ज्ञापन सौंपकर 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा ऑनलाइन (Online exam) कराने की मांग की है।

वहीं बलरामपुर में शुक्रवार को छात्र-छात्राओं ने सड़क पर बैठकर प्रदर्शन किया था। उन्होंने हाथों में जैसी शिक्षा-वैसी परीक्षा की तख्ती साथ रखी थी।


आजाद सेवा संघ ने ज्ञापन के माध्यम से बताया है कि जिस प्रकार से प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर दिनोंदिन और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है। ऐसे में दसवीं और बारहवीं के छात्र-छात्राओं की ऑफलाइन परीक्षा लेना चिंताजनक व खतरे से भरा है। ऑफलाइन परीक्षा से कई विद्यार्थी कोविड पॉजिटिव हो सकते हैं।

इसके मद्देनजर बोर्ड परीक्षा ऑनलाइन ली जाए। रचित मिश्रा ने बताया छत्तीसगढ़ शासन का आदेश है कि विद्यालय पूर्ण तरीके से बंद रहेंगे, इसके बाद भी कुछ निजी विद्यालयों द्वारा शासन के आदेश का उल्लंघन किया जा रहा है और छात्र-छात्राओं को विद्यालय बुलाने का दबाव बनाया जा रहा है।

ज्ञापन सौंपने वालों में जिला उपाध्यक्ष अक्षम गुप्ता, जिला महासचिव प्रतीक गुप्ता, सोहेब अली, ऋषभग अग्रवाल, हर्ष गुप्ता, जिला महासचिव अतुल गुप्ता, मयंक सोनी, बलराम दास, पुनीत शामिल रहे।


जैसी शिक्षा-वैसी परीक्षा
इधर बलरामपुर जिला मुख्यालय में शुक्रवार को १०वीं व १२वीं के विद्यार्थियों ने ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर रैली निकालकर सड़क पर बैठकर प्रदर्शन किया था।

विद्यार्थियों ने हाथों में तख्तियां ली थीं, जिसमें जैसी शिक्षा, वैसी परीक्षा की मांग लिखी गई थी। विद्यार्थियों ने इस दौरान छत्तीसगढ़ सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की व मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर १०वीं-१२वीं की बोर्ड परीक्षा ऑनलाइन करने की मांग की।


विद्यार्थियों ने ये कहा
बलरामपुर में प्रदर्शन के दौरान जैसी शिक्षा, वैसी परीक्षा की तख्तियां लेकर सड़क पर बैठे विद्यार्थियों ने बताया कि जिस तरह से ऑनलाइन क्लास चल रही थी, उसी तरीके से ऑनलाइन परीक्षा भी सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने बताया कि बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए जिस तरह से ऑनलाइन क्लासेस चल रही थी उसी तरह से 10वीं 12वीं की परीक्षा भी ऑनलाइन की जाए ताकि हम कोविड संक्रमण से बच सकें।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned