scriptPaddy purchase: Minister said- we will purchase all farmers paddy | मंत्री डहरिया बोले- भले ही बारदाने की कमी है लेकिन एक-एक वास्तविक किसानों का खरीदेंगे धान | Patrika News

मंत्री डहरिया बोले- भले ही बारदाने की कमी है लेकिन एक-एक वास्तविक किसानों का खरीदेंगे धान

Paddy Purchase: मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार किसान हितैषी सरकार है, समर्थन मूल्य (Support price) में एक-एक वास्तविक किसानों का धान खरीदा जाएगा, राजीव गांधी किसान न्याय योजना (Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana) के तहत आदान सहायता से समर्थन मूल्य की अंतर की राशि किसानों (Farmers) को आसानी से मिल जाती है, पिछले वर्ष के अंतिम किश्त का भुगतान भी शीघ्र किया जाएगा

अंबिकापुर

Published: December 02, 2021 10:38:34 pm

अंबिकापुर. Paddy Purchase: नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया गुरुवार को एक दिवसीय प्रवास पर उदयपुर पहुंचे। उन्होंने उदयपुर विकासखण्ड के धान खरीदी केंद्र डांडग़ांव का निरीक्षण कर 1 दिसंबर से शुरू हुए समर्थन मूल्य में धान खरीदी की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सभी पंजीकृत किसानों का धान खरीदने तथा छोटे और मध्यम किसानों को प्राथमिकता देते हुए पहले टोकन जारी करने के निर्देश दिए। धान खरीदी केंद्र में खरीदी की तैयारी तथा अन्य व्यवस्थाओं से उन्होंने संतुष्टि जाहिर की। उन्होंने कहा कि एक-एक वास्तविक किसानों का धान खरीदा जाएगा। नए बारदानों की कमी के बावजूद धान की खरीदी प्रभावित नहीं होगी। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार द्वारा किसानों के लिए किए जा रहे कार्यों का भी बखान किया।
paddy purchase
Minister Shiv Dahariya in Paddy purchase center

निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री डॉ. डहरिया ने उपार्जन केंद्र अंतर्गत पंजीकृत किसानों की संख्या, धान की गुणवत्ता, और नमी की मात्रा, पहले और दूसरे दिन जारी टोकन संख्या और धान की मात्रा आदि की जानकारी ली। उन्होंने इस दौरान किसानों के धान वजन करने की प्रक्रिया का भी अवलोकन किया। उन्होंने धान तौल में वजन ज्यादा होने पर बारदाने में धान की वजन की निर्धारित मात्रा की जानकारी ली और बोरी सहित 40.60 किलोग्राम ही वजन करने कहा।
इसी प्रकार धान की गुणवत्ता का भी निरीक्षण कर नमी के बारे में पूछताछ की और धान के लिए निर्धारित नमी की जांच कर खरीदी करने कहा। डॉ. डहरिया ने खरीदी केन्द्र द्वारा जारी की गई टोकन की संख्या कम होने पर टोकन संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए।
डॉ. डहरिया ने धान बेचने आए किसानों से खरीदी केंद्र की व्यवस्थाओं तथा सुविधाओं के संबंध में पूछ-ताछ की और उन्हें टोकन के आधार पर धान बेचने कहा। बताया गया कि डांडग़ांव उपार्जन केंद्र अंतर्गत 805 किसान पंजीकृत हंै।
यह भी पढ़ें
समर्थन मूल्य पर 1 दिसंबर से होगी धान खरीदी, मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ बॉर्डर होगा सील


पहले दिन 2 तो दूसरे दिन 14 किसानों को टोकन
पहले दिन केवल 2 किसानों को टोकन जारी किया गया था जिनसे 42 क्विंटल धान खरीदी हुई। दूसरे दिन 14 किसानों का टोकन काटा है। यहां 5 वजन मशीन और 1 नमी मापक यंत्र है। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य राकेश गुप्ता, राजनाथ सिंह, राधा रवि, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष रामदेव राम, कलक्टर संजीव कुमार झा, जिला विपणन अधिकारी आरपी पांडेय, जिला खाद्य अधिकारी रविन्द्र सोनी सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

'एक-एक वास्तविक किसान का खरीदेंगे धान
धान खरीदी केंद्र डांडग़ांव के निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री ने वहां उपस्थित किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार किसान हितैषी सरकार है, समर्थन मूल्य में एक एक वास्तविक किसानों का धान खरीदा जाएगा। भले ही नए बारदाने की कमी है लेकिन किसी भी कीमत पर धान खरीदी प्रभावित नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने किसानों से धान खरीदी के संबंध में संवाद करते हुए सभी पंजीकृत किसानों को समर्थन मूल्य में धान बेचने कहा।
यह भी पढ़ें
समर्थन मूल्य पर धान खरीदी आज से, पहले दिन की खरीदी के लिए 391 टोकन जारी

डॉ. डहरिया ने कहा कि हमारी सरकार किसानों के हित में अच्छा काम कर रही है। यहां समर्थन मूल्य में धान खरीदी पूरी पारदर्शिता के साथ होती है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत आदान सहायता से समर्थन मूल्य की अंतर की राशि किसानों को आसानी से मिल जाती है। पिछले वर्ष के अंतिम किश्त का भुगतान भी शीघ्र किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि किसानों के हित मे फैसला लेते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने किसानों के पुराने बारदाने का मूल्य 18 से बढ़ाकर 25 रुपए कर दिया है। किसान अपने पुराने बारदाने में भी धान बेच सकते है। डॉ. डहरिया ने कहा कि धान बेचने में किसानों को सहूलियत देने के लिए कई नए खरीदी केंद्र बनाए गए हैं। छोटे किसान जैसे लघु व सीमांत किसानों को धान बेचने में प्राथमिकता देने के निर्देश दिए गए हैं। इन किसानों को टोकन जारी करने में वरीयता दी जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.