पिता ने भाई-भतीजे के नाम कर दी पूरी संपत्ति तो अस्पताल में देखने तक नहीं आईं 3 बेटियां, मौत हो गई तो...

पिता ने भाई-भतीजे के नाम कर दी पूरी संपत्ति तो अस्पताल में देखने तक नहीं आईं 3 बेटियां, मौत हो गई तो...
Property

Ram Prawesh Wishwakarma | Updated: 09 Oct 2019, 08:44:44 PM (IST) Ambikapur, Surguja, Chhattisgarh, India

Property greedy: मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कर छोड़ दिया था परिजनों ने, संपत्ति में हिस्सा नहीं मिलने के कारण बेटियों मोड़ा पिता से मुंह

अंबिकापुर. लंबे समय से भर्ती एक ग्रामीण की मौत इलाज के दौरान मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हो गई। परिजन उसे अस्पताल में भर्ती कराकर छोड़ कर चले गए थे। उसकी देख-रेख करने के लिए साथ में कोई नहीं था। 3 बेटियां देखने तक नहीं आईं। क्योंकि पिता ने अपनी सारी संपत्ति भाई व भतीजे के नाम कर दी है। (Property greed)

इस संबंध में बेटियों का कहना है कि पिता की देख रेख भाई व भतीजे को ही करना चाहिए। उसकी मौत की सूचना संबंधित थाना क्षेत्र को दी गई है।


सरगुजा जिले के दरिमा माझापारा निवासी 55 वर्षीय प्रेमसाय की 3 पुत्रियां हैं। कोई पुत्र नहीं होने के कारण उसकी संपत्ति भाई व भतीजे ने अपने नाम करवा लिया है। कुछ दिन पूर्व उसकी तबियत खराब हो गई। परिजन इसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराने के बाद चले गए।

बेटियां इसे देखने तक नहीं आईं। क्योंकि पिता ने अपनी सारी संपत्ति भाई व भतीजे के नाम कर दी है। इस संबंध में बेटियों का कहना है कि पिता की देख रेख भाई व भतीजे को ही करना चाहिए। (Property greedy) अंतत: प्रेम साय की मौत बुधवार की सुबह मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हो गई।


दरिमा पुलिस को दी गई सूचना
प्रेम साय की मौत होने के बाद अस्पताल चौकी प्रभारी निर्मला कश्यप ने घटना की जानकारी दरिमा पुलिस को दी। दरिमा पुलिस ने प्रेम साय की मौत की खबर उसके परिजन को दी। सूचना पर प्रेम साय के भाई व भतीजा अस्पताल पहुंचे और क्रियाकर्म के लिए शव ले गए।

अंबिकापुर की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in Ambikapur

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned