शैला नृत्य में मांदर की थाप पर झूमे राहुल गांधी, भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष- देखें Video

rampravesh vishwakarma

Publish: May, 17 2018 09:13:31 PM (IST)

Ambikapur, Chhattisgarh, India
शैला नृत्य में मांदर की थाप पर झूमे राहुल गांधी, भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष- देखें Video

सीतापुर में किसान व आदिवासी सम्मेलन में पहुंचने के बाद सुरक्षा घेरा तोड़कर लोगों के बीच पहुंचे राहुल गांधी

अंबिकापुर. छत्तीसगढ़ के दौरे पर पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का चौपर दोपहर 1.30 बजे सीतापुर स्थित पेट्रोल पंप के पीछे बने हेलीपैड पर उतरा। राहुल गांधी के कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने के बाद सरगुजा के लोक नृत्य शैला से आदिवासी महिलाओं ने स्वागत किया।

उन्हें नृत्य करता देख राहुल गांधी अपने आपको रोक नहीं पाए और शैला नृत्य करने समूह में पहुंच गए। इस दौरान उनके साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल , नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव व सीतापुर विधायक अमरजीत भगत भी थे। आदिवासियों ने शैला नृत्य की भारी-भरकम पोशाक राहुल गांधी को पहना दी और उनके गले में मांदर डाल दिया।

 

थोड़ी देर तक मांदर की थाप व महिलाओं के संगीत पर राहुल गांधी अन्य नेताओं के साथ जमकर थिरके। बाद में उन्होंने मांदर भूपेश बघेल को दे दी। इधर विधायक अमरजीत भगत ने नेता प्रतिपक्ष के गले में मांदल डाल दिया। इसके बाद भूपेश सिंह व टीएस सिंहदेव मांदर की थाप पर झूमते रहे।

 

Rahul Gandhi

जनसमूह के बीच पहुंचे
राहुल गांधी एसपीजी घेरा तोड़ते हुए स्टेडियम में उपस्थित अपार जनसमूह के बीच पहुंच गए। अपने बीच राहुल को पाकर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ अन्य लोगों ने उनके साथ मोबाइल पर सेल्फी लेना शुरू कर दिया। राहुल गांधी ने भी लोगों को सेल्फी लेने दिया।


एक भी वादे नहीं किए पूरे
सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने भाजपा पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भाजपा ने 2014 में जब प्रधानमंत्री चुनाव का प्रचार कर रहे थे तो उन्होंने जनता से 3-4 बड़े वादे किए थे। मोदी ने कहा था कि 2 करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देंगे। हर किसी के बैंक खाते में 15 लाख रुपए डाले जाएंगे, लेकिन क्या ऐसा हुआ।

15 लाख रुपए आपको मिले। 15 लाख तो छोड़ दें 10 रुपए भी किसी के खाते में नहीं आए। पीएम मोदी ने कहा था कि यूपीए की सरकार किसानों को उनकी मेहनत का सही दाम नहीं दिलाती, उन्होंने दिलाया क्या? मैंने संसद में जब सरकार से पूछा तो पता चला कि पिछले 8 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी अभी है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। युवा रोजगार के लिए भटक रहा है।

Ad Block is Banned