Raksha Bandhan 2021: राखियां खरीदने बहनों की उमड़ी भीड़, इस रक्षाबंधन बाजार पर कोरोना का नहीं दिख रहा असर

Raksha Bandhan 2021: सावन पूर्णिमा (Sawan Poornima) को मनाया जाएगा भाई-बहन (Brother-sister) के पवित्र रिश्ते का पर्व रक्षाबंधन, बहनों ने भाइयों के लिए मिठाइयां (Sweets) खरीदी तो बहनों ने बहनों के लिए कपड़े व गिफ्ट

By: rampravesh vishwakarma

Published: 21 Aug 2021, 08:31 PM IST

अंबिकापुर. बहन-भाई का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन रविवार को मनाया जाएगा। इसके लिए शनिवार को बाजार में खरीदारों की अच्छी खासी भीड़ रही। बहनों ने अपने भाइयों की कलाइयां सजाने राखी की जमकर खरीदारी की। 2 रुपए से लेकर 2 हजार तक की राखियां बिकीं।

वहीं ज्वेलर्स दुकानों से सोने-चांदी की राखियां भी बिक्री की गईं। इस बार संक्रमण कम होने से कोरोना का डर लोगों में नजर नहीं आया, बाजार में जमकर भीड़ उमड़ी। कोई राखी खरीदता नजर आया तो कोई मिठाई व कपड़े।


नए वस्त्र, राखी व जरूरी सामान के लिए ग्राहक सुबह से ही खरीदारी करने के लिए बाजार में लोग पहुंचे। भाई की कलाई पर सुंदर राखी बांधने के लिए बहनें मनपसंद राखियां खरीदती नजर आईं तो ज्वेलर्स की दुकानों पर सोने-चांदी की राखियां भी बिकीं। हालांकि इनकी खरीदारी कम मात्रा में हो रही है।

Read More: रक्षाबंधन पर सजा राखी का बाजार, क्या कह रहे हैं दुकानदार- देखें Video

बाजारों में सबसे ज्यादा बहनों की भीड़ नजर आ रही है। भाई की कलाई सुंदर दिखे इसके लिए घंटों दुकानों पर खड़े होकर राखी पसंद करती रहीं। वहीं शहर के कई स्थानों पर लोग अस्थायी दुकानें बनाकर राखी बेच रहे हैं। शहर के घड़ी चौक, थाना चौक, संगम चौक, गुदरी बाजार सहित विभिन्न स्थानों पर अस्थायी दुकानें सजी हुई हैं।

बहनें अपने भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिए मोतियों व ब्रेसलेट को ज्यादा पसंद कर रही हैं तो बच्चों के लिए टेडीबियर राखी खरीदी की गई। कई बहनें अपने भाई की कलाई पर सोने और चांदी की राखी बांधने के लिए ज्वेलर्स की दुकानों में खरीदारी करती नजर आईं।


रेडीमेड कपड़ों की दुकानों में भी भीड़
भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन रविवार को मनाया जाएगा, जिसके चलते बाजारों में खरीदारों की भीड़ लगी हुई है। रेडीमेड कपड़ों को खरीदने के लिए मार्केट में पहुंचकर ग्राहक खरीदारी कर रहे हैं।

Read More: Lockdown: रक्षाबंधन में शहर में 4 घंटे के लिए राखी व मिठाई दुकान खोलने की मिली अनुमति

वही शहर के मिठाई दुकानों में भी खरीदारों की भीड़ लगीरही। रक्षाबंधन के दिन मिठाई का विशेष महत्व रहता है। बहनें राखी बांधने के बाद भाई का मुंह मीठा करातीं हैं, इसलिए लोग अपनी पसंदीदा मिठाइयां खरीद रहे हैं।


कोरोना संक्रमण कम होने से त्योहारों को लेकर बढ़ा उत्साह
कोरोना संक्रमण के कारण पिछले 1 वर्षों से हर त्योहार फीका ही नजर आया है। पिछले वर्ष भी रक्षाबंधन का त्यौहार उत्साह पूर्वक नहीं मनाया गया था।

जिला प्रशासन के सख्त निर्देश के कारण शहर में राखी की दुकानें नहीं लगाई गई थीं। लेकिन इस वर्ष कोरोना संक्रमण में कमी आने के कारण शहर में उत्साह देखा जा रहा है। लोग बेफिक्र होकर खरीदारी करते नजर आ रहे हैं। हालांकि यह लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक भी साबित हो सकती है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned