14 दिन के पैरोल पर छूटकर आए बलात्कार के आरोपी बंदी की घर पर हो गई मौत, बेहोश हुई पत्नी

Rape prisoner died: खाट पर बैठा और अचानक सीने में उठा था दर्द, प्रथम दृष्टया हार्ट अटैक से मौत मान रही पुलिस

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 05 Sep 2020, 10:38 PM IST

उदयपुर. केंद्रीय जेल में बलात्कार के मामले में कारावास की सजा काट रहा बंदी 14 दिन के पैरोल पर छूट कर अपने घर ग्राम पोतका आया था। शनिवार की सुबह अचानक उसकी तबियत बिगड़ी व कुछ ही देर में उसने दम तोड़ (Rape prisoner died) दिया। पुलिस इसे प्रथम दृष्टया हार्ट अटैक से मौत होना मान रही है। शव के पीएम के बाद ही कारण स्पष्ट हो पाएगा।


उदयपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पोतका निवासी २९ वर्षीय राजेश महंत पिता घरभरन को बलात्कार के मामले में पांच साल पूर्व आजीवन कारावास की सजा हुई थी। वह केंद्रीय जेल में सजा काट रहा था।

8 दिन पूर्व वह 14 दिन के पैरोल पर छूटकर घर आया था। शनिवार की सुबह वह अपने बेटे के साथ सैलून से बाल कटवाकर घर आया, फिर नहाने के बाद खाट पर लेटा था। इसी बीच उसने अचानक अपने बेटे से पीने के लिए पानी मांगा, लेकिन पी नहीं सका व सीने को पकडक़र बैठ गया।

परिजन कुछ कर पाते कि इससे पहले ही उसने दम तोड़ (Rape prisoner died) दिया। अचानक उसकी मौत होने से घर में चीख-पुकार मच गई। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। पति को मृत देखकर पत्नी भी बेहोश हो गई, उसे उपचार हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लखनपुर में भर्ती कराया।


हार्ट अटैक से मौत
इस घटना की सूचना पर उदयपुर थाने के एएसआई अजीत मिश्रा, आरक्षक सुधीर सिंह व अमित विश्वकर्मा के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने परिजनों का बयान दर्ज कर शव को पीएम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उदयपुर भेज दिया। पुलिस प्रथम दृष्टया मौत का कारण हार्ट अटैक मान रही है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned