एनएच पर वैन-बाइक में जबरदस्त भिड़ंत, 3 साल के मासूम बेटे की मौत, पति-पत्नी गंभीर

Road Accident: अंबिकापुर-बिलासपुर नेशनल हाइवे (National highway) पर हुआ हादसा, गंभीर हालत में पति-पत्नी को मेडिकल कॉलेज अस्पताल (Medical college hospital) किया गया रेफर

By: rampravesh vishwakarma

Published: 26 Sep 2021, 07:23 PM IST

उदयपुर. Road Accident: अंबिकापुर-बिलासपुर नेशनल हाइवे-130 पर स्थित तारा चौकी के पास रविवार की शाम तेज रफ्तार वैन ने बाइक सवार पति-पत्नी व मासूम बेटे को टक्कर मार दी। हादसे में मासूम की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पति-पत्नी गंभीर रूप से घायल हो गए।

उन्हें तत्काल स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, यहां पति-पत्नी की गंभीर हालत को देखते हुए मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर (Medical college hospital) रेफर किया गया। हादसे में मासूम की मौत (Innocent death) से उसके अन्य परिजनों में मातम पसरा हुआ है।


सूरजपुर जिले के तारा चौकी प्रभारी लव कुमार पांडेय ने बताया कि रविवार की शाम करीब 5 बजे चौकी के समीप ही नेशनल हाइवे पर बिलासपुर की ओर से आ रही इको वैन क्रमांक आरजे 20 सीएच 3368 के चालक ने बाइक सवार पति-पत्नी व उनके मासूम बेटे को टक्कर मार दी।

Read More: शहर में बड़ा सडक़ हादसा: वाहन ने बाइक सवार 2 युवकों को मारी टक्कर, दोनों की दर्दनाक मौत

बाइक सवार हरिहरपुर निवासी सुखदेव अपनी पत्नी शकुंतला व 3 साल के मासूम बेटे शशिकांत के साथ उदयपुर से घर जा रहा था। वैन चालक ने ट्रक को ओवरटेक करने के चक्कर में बाइक सवारों को टक्कर मारी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि तीनों सड़क पर जा गिरे। हादसे में सिर में गंभीर चोट लगने से बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने निजी वाहन से उदयपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। यहां डॉक्टर आशीष जायसवाल ने दोनों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर के लिए रेफर कर दिया।

Read More: शादी पार्टी से लौट रहे युवकों की 2 बाइक खड़े ट्रक से टकराई, 2 की मौत, एक की गर्दन कटकर हुई अलग


बिखर गया हंसता-खेलता परिवार
सड़क हादसे में एक झटके में एक हंसते-खेलते परिवार की खुशियां छीन ली। हादसे में जहां मासूम बेटे की मौत हो गई, वहीं पति-पत्नी की हालत भी गंभीर है। दुर्घटना से क्षेत्र में शोक के साथ लोगों में आक्रोश भी है।


एनएच पर लगातार हो रहे हादसे
तेज रफ्तार में भारी वाहनों के चलने से नेशनल हाइवे (National Highway) पर आए दिन हादसे हो रहे हैं। इन हादसों में लोगों की जानें जा रही हैं। इसके बावजूद रफ्तार पर अंकुश लगता दिखाई नहीं दे रहा है। शासन-प्रशासन भी रफ्तार पर ब्रेक लगाने पहल नहीं कर रहा है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned