युवक ने सीएम हाउस के सामने किया था आत्मदाह का प्रयास, गुस्साए भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने फूंका सीएम का पुतला, पुलिस से हुई झूमाझटकी

Self Immolation: भाजयुमो कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्रदेश सरकार द्वारा बेरोजगारों के प्रति अपनाई जा रही है उपेक्षापूर्ण नीति, कलक्टर को 8 मांगों का सौंपा ज्ञापन

By: rampravesh vishwakarma

Published: 30 Jun 2020, 05:12 PM IST

अंबिकापुर. राजधानी रायपुर में सीएम हाउस के सामने धमतरी के एक युवक ने आत्मदाह (Self Immolation) का प्रयास किया था। उसका इलाज अंबेडकर अस्पताल में चल रहा है। इधर प्रदेश सरकार के बेरोजगारों के प्रति अपनाई जा रही उपेक्षापूर्ण नीति तथा आत्मदाह का प्रयास करने वाले युवक को न्याय दिलाने सहित अन्य मांगों को लेकर भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने शहर के घड़ी चौक में सीएम का पुतला फूंका।

पुतला दहन के दौरान उनकी पुलिस से झूमाझटकी भी हुई। पुतला दहन के बाद उन्होंने सीएम के नाम 8 मांगों का ज्ञापन भी कलक्टर को सौंपा।


अंबिकापुर भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने भूपेश सरकार पर बेरोजगार युवाओं को नौकरी का झांसा देकर सत्ता में आने का आरोप लगाया है। वहीं सोमवार को एक युवक ने सीएम हाउस के सामने आत्मदाह (Self Immolation) का प्रयास किया था, यह सभ्य समाज पर बदनुमा दाग है।

इससे गुस्साए भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने शहर के घड़ी चौक में सीएम भूपेश बघेल का पुतला दहन किया। इस दौरान पुलिस ने पुतला छीनने का प्रयास किया तो उनके साथ झूमाझटकी भी हुई। भाजयुमो ने 8 मांगों को लेकर सीएम के नाम कलक्टर को ज्ञापन दिया।

युवक ने सीएम हाउस के सामने किया था आत्मदाह का प्रयास, गुस्साए भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने फूंका सीएम का पुतला, पुलिस से हुई झूमाझटकी

ये हैं मांगें
भाजयुमो कार्यकर्ताओं की मांगों में आत्मदाह पीडि़त युवक की समस्या का निराकरण प्राथमिकता से करने, चुनाव पूर्व छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता के रूप में 2500 रुपए दिए जाने के वादे को जुलाई माह से प्रारंभ करने तथा राज्य सरकार के शपथ ग्रहण करने के दिन से भत्ता दिए जाने की मांग की है।

इसके अलावा कई भर्ती परीक्षाओं जैसे आरक्षक भर्ती समेत अन्य को तत्काल पूरा किया जाए, सीजीपीएससी द्वारा विज्ञापित भर्ती परीक्षा, सहायक प्रोफेसर की निलंबित की गई परीक्षा को संपादित कर परिणाम जारी किया जाए।

वहीं सुबेदार, सब-इंस्पेक्टर व प्लाटून कमांडर के लिए जारी किए गए विज्ञापन को तत्काल प्रारंभ कराने, 15 हजार लंबित शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया को पूरा कराने, व्यापमं द्वारा नौकरी के लिए जारी विज्ञापन जिन्हें अघोषित रूप से रोका गया है, उन्हें तुरंत जारी करने तथा कोरोना संक्रमण के इस दौर में राज्य सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले भर्ती परीक्षाओं में सभी वर्गों के अभ्यर्थियों से अगले 2 वर्षों तक कोई भी शुल्क न लिए जाने की मांग शामिल है।


आंदोलन की दी चेतावनी
भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी है कि यदि उक्त मांगों को पूरा नहीं किया जाता है तो वे राज्यभर में विरोध प्रदर्शन व आंदोलन करेंगे। इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी। पुतला दहन व ज्ञापन सौंपने के दौरान शानू कश्यप, निरंजन राय, रवि सिंह, अभिषेक प्रताप सिंह देव, विकाश गुप्ता, विपिन पाण्डेय, विश्वविजय सिंह तोमर,

दीपक सिंह तोमर, गौतम विश्वकर्मा, सत्यम सिंह, मनीष सिंह, अमित दुबे, मार्कण्डेय तिवारी, दिव्यांशु केशरी, अनिकेत गुप्ता, प्रिन्स तिवारी, धीरज सिंह, नितेश सिंह, सुभम प्रजापति, सतीश कुमार कश्यप, सोनू सिंह, रवि सोनी, संजीव वर्मा, बृजेश मिश्रा, दीपक यादव समेत काफी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned