थप्पड़ मारने पर डॉक्टरों ने ओपीडी बंद कर की हड़ताल, एएसपी बोले- गिरफ्तार हो चुका है आरोपी तब लौटे काम पर

Slaps doctor's case: 4 दिन पूर्व मेडिकल कॉलेज अस्पताल के 2 डॉक्टरों से युवक ने की थी मारपीट, नर्सों से भी गाली-गलौज व बदसलूकी

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 07 Jul 2020, 05:49 PM IST

अंबिकापुर. चार दिन पूर्व 2 डॉक्टरों से मारपीट (Slaps doctor's case) व नर्सों से बद्सलूकी मामले में मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डॉक्टरों-नर्सो व अन्य स्टाफ ने ओपीडी बंद कर मंगलवार को हड़ताल की। ढाई घंटे बाद अस्पताल परिसर में सीएमएचओ, एडिशनल एसपी व सीएसपी पहुंचे और डॉक्टरों से कहा कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, 3 बजे तक उसे न्यायालय में पेश किया जाएगा, आप लोग काम पर लौट जाएं।

इस आश्वासन के बाद डॉक्टरों ने हड़ताल समाप्त किया। डॉक्टरों ने यह भी कहा कि यदि उक्त समय तक आरोपी को पेश नहीं किया जाता है तो वे फिर हड़ताल करेंगे। इधर पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। (Slaps doctor's)


गौरतलब है कि 3 जुलाई की रात करीब 8 बजे मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अंकित दुबे नामक युवक फिमेल वार्ड में पहुंचा और जहर सेवन के मामले में भर्ती रिश्तेदार महिला से तेज आवाज में बात करने लगा।

इस दौरान फिमेल मेडिकल वार्ड में डॉ. पुकेश्वर वर्मा, डॉ. दीपक चंद्रवंशी, स्टाफ नर्स मुन्नी सरदार, चंद्रकांता यादव एवं अन्य स्टाफ रात्रिकालीन ड्यूटी कर रहे थे। इस दौरान वार्ड में मरीज के साथ विवाद होता देख ड्यूटी में तैनात डॉक्टर व नर्स सभी अंकित दुबे को समझाने लगे।

इसी बीच अंकित दुबे ड्यूटी कक्ष में जाकर चिकित्सक व महिला स्टाफ नर्सों के साथ गाली गलौज कर रहा था। इस दौरान उसने गुस्से में आकर डॉक्टर पुकेश्वर वर्मा का बाल खींचकर थप्पड़ जड़ (Slaps doctor's case) दिया और गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी देने लगा।

इस दौरान डॅा. दीपक चंद्रवंशी को एएसपी की पत्नी का भाई कहकर थप्पड़ मार दिया और जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद डॉ. पुकेश्वर वर्मा व डॉ. दीपक चंद्रवंशी ने मणिपुर चौकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस आरोपी अंकित दुबे के खिलाफ धारा 186, 353, 332, 294, 506 के तहत अपराध दर्ज कर उसकी तलाश में जुटी थी।


डॉक्टरों ने ओपीडी बंद करने की दी थी चेतावनी
3 दिन बाद भी आरोपी के नहीं पकड़े जाने पर डॉक्टरों व स्टाफ नर्सों ने ओपीडी बंद कर हड़ताल की चेतावनी दी थी। इसी कड़ी में उन्होंने मंगलवार को सुबह 9 बजे से 11.30 बजे तक ढाई घंटे हड़ताल की। इसकी जानकारी लगते ही एएसपी ओम चंदेल, सीएसपी व सीएमएचओ पीएस सिसोदिया मौके पर पहुंचे। (Slaps doctor's case)

एएसपी ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है, आप लोग काम पर लौट जाएं। इसके बाद उन्होंने प्रदर्शन समाप्त कर दिया। वहीं पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।


स्वास्थ्य मंत्री ने गृहमंत्री को भी लिखा था पत्र
गौरतलब है कि डॉक्टरों से मारपीट (Slaps doctor's case) की खबर लगते ही स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी। उन्होंने गृहमंत्री व सरगुजा आईजी को पत्र लिखकर आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने कहा था।

उन्होंने यह भी कहा था कि यदि आरोपी को जल्द नहीं पकड़ा गया तो वे भी डॉक्टरों के साथ आंदोलन करेंगे। वहीं रविवार की रात रायपुर से मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचकर प्रबंधन को वहां की सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने के निर्देश दिए थे।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned