माता-पिता के साथ सोए मासूम बेटे की थम गई सांसें, देखा तो चारपाई के नीचे लेटी थी काली मौत

Snake bite: आधी रात (Midnight) बेटा उठकर रोने लगा तो माता-पिता (Parents) की खुल गई नींद, उठकर देखा तो हाथ में था सूजन, चंद मिनट में ही चली गई जान

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 20 May 2021, 10:45 PM IST

अंबिकापुर. बेमौसम बारिश शुरु होते ही सर्पदंश (Snake Bite) की घटनाएं भी सामने आने लगी हैं। जमीन पर सोने के दौरान सर्पदंश की घटनाएं तो हो ही रही थी लेकिन चारपाई पर सोए लोग भी सर्पदंश का शिकार हो रहे हैं। ऐसी ही एक घटना शहर से लगे एक गांव में हुई।

यहां बीती रात माता-पिता के साथ सोया 3 साल का मासूम बेटे को सांप ने डस लिया। बच्चे के रोने की आवाज सुन माता-पिता ने देखा तो उसके हाथ में सूजन था। चारपाई के नीचे देखा तो डंडा करैत सांप लेटा हुआ था। फिर चंद मिनट में ही मासूम की मौत (Innocent Son death) हो गई।

Read More: आधी रात पत्नी के पैरों में हुई जलन तो खुल गई नींद, लाइट जलाई तो मौत देख कांप गई रूह, पति को जगाया फिर छूट गई दुनिया


अंबिकापुर शहर से लगे ग्राम खैरबार निवासी नरेंद्र खांडे अपनी पत्नी व 3 वर्षीय पुत्र सुशांत के साथ बुधवार की रात खाना खाकर चारपाई पर सो रहा था। आधी रात अचानक बेटा सुशांत रोने लगा। यह देख उसके माता-पिता की नींद खुल गई, उन्होंने लाइट जलाकर देखा तो बेटे के हाथ में सूजन था।

हाथ में बना निशान देख वे समझ गए कि उसे सांप ने डसा (Snake Bite) है। इसके बाद उन्होंने इधर-उधर देखा, फिर चारपाई के नीचे नजर गई तो उनकी रूह कांप गई। खाट के नीचे काला डंडा करैत सांप लेटा हुआ था।

Read More: आधी रात हड़बड़ा कर उठा युवक, देखा तो हाथ में बना था कुछ ऐसा निशान कि चंद घंटे में ही हो गई मौत

यह देख वे भी शोर मचाने लगे। इधर मासूम बेटे की तबीयत बिगड़ती चली गई। आनन-फानन में वे बेटे को लेकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे। यहां जांच पश्चात डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


परिजनों में पसर गया मातम
डॉक्टर द्वारा मासूम बेटे को जैसे ही मृत घोषित किया गया, उसके माता-पिता के रोने का ठिकाना न रहा। वे गोद में बेटे को लेकर घंटों बिलखते रहे। मासूम की मौत से अन्य परिजनों व गांव में मातम पसरा हुआ है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned