आधी रात हड़बड़ा कर उठा युवक, देखा तो हाथ में बना था कुछ ऐसा निशान कि चंद घंटे में ही हो गई मौत

Snake bite: दाहिने हाथ में कुछ काटने (Cut) का अहसास होने पर लाइट जलाकर देखा तो पास ही पड़ी थी मौत, परिजन अस्पताल (Hospital) लेकर पहुंचे लेकिन नहीं बची जान

By: rampravesh vishwakarma

Published: 13 May 2021, 03:01 PM IST

अंबिकापुर. एक युवक मंगलवार की रात अपने घर में सो रहा था। आधी रात अचानक उसे हाथ में कुछ काटने का एहसास हुआ तो उसकी नींद खुल गई। वह उठा और लाइट जलाकर देखा तो पास ही एक जहरीला सांप भी लेटा हुआ था। यह देख वह हड़बड़ा गया और हाथ में निशान देख परिजनों को जगाया। (Snake bite)

आनन-फानन में उसे मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी चंद घंटे में ही मौत हो गई। युवक की मौत से परिजनों में मातम पसर गया है।

Read More: आधी रात पत्नी के पैरों में हुई जलन तो खुल गई नींद, लाइट जलाई तो मौत देख कांप गई रूह, पति को जगाया फिर छूट गई दुनिया


अंबिकापुर-बिलासपुर नेशनल हाइवे पर शहर से लगे ग्राम बरढोढ़ी निवासी फुंदी दास 40 वर्ष मंगलवार की रात अपने घर की परछी में सो रहा था। आधी रात उसे एहसास हुआ कि उसके दाहिने हाथ पर किसी ने काटा है। वह हड़बड़ा कर उठ बैठा तो तेज जलन हो रही थी। उसने लाइट जलाकर देखा तो पास में ही एक सांप भी पड़ा हुआ था।

उसे यह समझते देर नहीं लगी कि उसे सांप ने डस (Snake bite) लिया है। हाथ में काटने की जगह पर देखा तो सांप डसने का निशान बना हुआ था। इसके बाद उसने शोर मचाकर घरवालों को जगाया।

आनन-फानन में उसे रात में मेडिकल कॉलेज अस्पताल (Medical college hospital) में भर्ती कराया गया। यहां इलाज के दौरान कुछ ही देर बाद उसकी मौत हो गई।

Read More: शादी में शामिल होने गई महिला की सांप डसने से मौत


हर साल दर्जनों लोग होते हैं सर्पदंश का शिकार
गौरतलब है कि सरगुजा संभाग के सरगुज, सूरजपुर, बलरामपुर, कोरिया व जशपुर जिले में हर साल सर्पदंश (Snake bite) से दर्जनों लोगों की मौत हो जाती है। अधिकांश मौतें बारिश के दिनों में जमीन पर सोने के दौरान सांप के डसने से होती है।

प्रशासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को जमीन पर नहीं सोने जागरुक किया जाता है लेकिन गरीबी के कारण खाट या चौकी की व्यवस्था न होने पर जमीन पर ही सो जाते हैं।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned