छत्तीसगढ़ में होने वाली है 14000 शिक्षकों की भर्ती, इधर शिक्षक संघ ने कहा- नई भर्ती से पहले ये काम करे सरकार

छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री ने सरकार के इस फैसले को फिलहाल बताया अनुचित

By: rampravesh vishwakarma

Published: 10 Mar 2019, 08:24 PM IST

अम्बिकापुर. छग पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री रंजय सिंह ने कहा कि व्याख्याता, शिक्षक, सहायक शिक्षक, व्यायाम शिक्षक व सहायक शिक्षक विज्ञान के पदों पर शासन द्वारा भर्ती किये जाने का विज्ञापन प्रकाशित करने हेतु व्यापमं को कहा गया है, जबकि शिक्षा विभाग एवं आजाक विभाग के शालाओं में पंचायत संवर्ग के शिक्षक पूर्व से कार्यरत हंै।

अत: जब तक पूर्व से कार्यरत शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय, शिक्षा कर्मी का संविलियन कर शासकीय नहीं कर दिया जाता तब तक सीधे शासकीय शिक्षक पद पर भर्ती किया जाना अनुचित है।

साथ ही ऐसे शिक्षक, सहायक शिक्षक, एलबी जो उच्च योग्यता रखते हंै एवं लम्बे समय से एक ही पद पर पदस्थ हंै पहले इनकी पदोन्नति की जाए। इसके बाद शेष पदों पर भर्ती की जाए, हम स्वागत करेंगे।


प्रदेश महामंत्री रंजय सिंह ने शासन से मांग करते हुये कहा है कि पहले प्रदेश में कार्यरत समस्त पंचायत नगरीय निकाय संवर्ग के शिक्षकों का संविलियन करें क्योंकि पूर्व शासन द्वारा जुलाई 2018 में आठ वर्ष पूर्ण कर चुके शिक्षक पंचायत का संविलियन किया था, अभी भी हजारों शिक्षक पंचायत संविलियन की राह देख रहे हंै, नई सरकार के जन घोषणा पत्र में दो वर्ष पर संविलियन का उल्लेख होने के बाद भी अभी तक संविलियन नहीं किया गया है।

शासन के इस निर्णय से सभी को निराशा हाथ लगी है एवं साथ ही शिक्षक एलबी लम्बे समय से एक ही पद पर कार्यरत हंै, पहले इन्हें पदोन्नति दी जाए, इसके बाद ही रिक्त पदों पर शासकीय शिक्षक की भर्ती की जाए।


हम करते हैं इसका विरोध
प्रदेश महामंत्री ने कहा कि बिना संविलियन एवं पदोन्नति किये यदि भर्ती की गई तो यह पूर्व से कार्यरत पंचायत नगरीय निकाय संवर्ग के शिक्षकों के साथ अन्याय होगा, जिसका छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ विरोध करता है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned