आग ताप रही महिला को आया चक्कर, फिर हुआ दिल दहलाने वाला हादसा

चक्कर आने से महिला आग की लपटों में गंभीर रूप से झुलस गई थी, 4 दिन रही जिंदा फिर आ गई मौत

By: rampravesh vishwakarma

Published: 15 Jan 2018, 03:25 PM IST

अंबिकापुर. इन दिनों सरगुजा संभाग में ठिठुरने वाले ठंड पड़ रही है। ठंड से बचने लोगों द्वारा तरह-तरह के उपाय किए जाते हैं। कोई रजाई-कंबल ओढ़ता है तो कोई अलाव जलाकर आग की गर्मी लेता है। लेकिन एक महिला को अलाव जलाकर आग तापना महंगा पड़ गया।

आग तापने के दौरान अचानक उसे चक्कर आ गया। इससे वह आग की चपेट में आकर गंभीर रूप से झुलस गई। उसे तत्काल अंबिकापुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां 4 दिन तक चले उपचार के बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम आमाटोली निवासी सुनीता लकड़ा पति बाबूलाल लकड़ा उम्र 45 वर्ष 9 जनवरी को ठंड लगने पर घर में अलाव जलाकर आग ताप रही थी। इस दौरान घर के सदस्य अपने-अपने काम में लगे हुए थे।

इसी दौरान महिला को अचानक चक्कर आ गया और वह आग में गिर गई। इससे वह आग की लपटों की चपेट में आकर गंभीर रूप से झुलस गई। अचानक महिला के गिरने की आवाज सुनकर घर के लोग दौड़े और उसे तत्काल स्थानीय अस्पताल में ले गए।

यहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर के लिए रेफर कर दिया। इसके बाद परिजन पीडि़ता को उपचार के लिए अंबिकापुर लेकर आये और एक निजी अस्पताल में भर्ती करा दिए। यहां 4 दिन तक महिला का इलाज किया गया।

इस दौरान उसकी हालत में सुधार आने की बजाय दिनोंदिन बिगड़ती चली गई। अंतत: महिला ने शनिवार की रात दम तोड़ दिया। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा पश्चात शव का पीएम कराया। पीएम के बाद उन्होंने शव परिजनों को सौंप दिया।


कड़ाके की पड़ रही ठंड
गौरतलब है कि इन दिनों सरगुजा संभाग में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। इससे बचने लोग गर्म कपड़ों में ही घर से बाहर निकलते हैं। रात को ग्रामीण क्षेत्र के लोग ठंड से बचने अलाव का सहारा लेते हैं।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned