scriptWeather Update: Heavy cold in Surguja, Minimum temperature 10 degree | Weather Update: बादल छंटते ही यहां पडऩे लगी कड़ाके की ठंड, 10 डिग्री पहुंचा न्यूनतम तापमान | Patrika News

Weather Update: बादल छंटते ही यहां पडऩे लगी कड़ाके की ठंड, 10 डिग्री पहुंचा न्यूनतम तापमान

Weather Update: बलरामपुर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 7.7 डिग्री दर्ज किया गया न्यूनतम तापमान, मौसम वैज्ञानिक (Weather scientist) का कहना कि मौसमी परिघटनाओं की दृष्टि से नवंबर का महिना उलट-फेर वाला रहा है, 29 नवम्बर से अंडमान सागर में पुन: एक न्यूनदाब बनने की संभावना से बादलों की आवाजाही का अनुमान

अंबिकापुर

Published: November 28, 2021 10:00:12 pm

अंबिकापुर. Weather Update:आसमान से पूरी तरह बादल छंटते ही सरगुजा में कड़ाके की ठंड पडऩी शुरू हो गई है। पिछले तीन दिनों से ठंड ज्यादा पड़ रही है। मौसम वैज्ञानिक के अनुसार उत्तरी छत्तीसगढ़ में एक बार फिर उत्तरी शुष्क हवाओं ने दस्तक दी है, इस कारण न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट आनी शुरू हो गई है।
Weather update Ambikapur
Weather update
अम्बिकापुर में रविवार को इस सीजन का सबसे कम न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि बलरामपुर जिले ग्रामीण क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।


मौसम विज्ञानी एमएस भट्ट के अनुसार मौसमी परिघटनाओं की दृष्टि से नवम्बर का महीना इस वर्ष उलट फेर भरा रहा है। शुरुआती दिनों में गुलाबी ठंड धीरे-धीरे सिहरन पैदा करने की ओर अग्रसर ही था और कुछ पश्चिमी विक्षोभ आकार लेते हुए उत्तर भारत की ओर प्रभावी होने को चले ही थे।
इसी बीच बंगाल की खाड़ी में लगातार न्यूनदाब और अवदाब परिसंचरण ने उत्तरी शुष्क हवाओं को आगे बढऩे से रोक दिया। आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु क्षेत्रों में अंडमान सागर से चले चक्रवाती व्यवधान न सिर्फ यहां बरसे बल्कि जम कर बरसे और रिकार्ड पर रिकार्ड को जन्म देते चले गए।
नवम्बर के प्रारंभ में अम्बिकापुर के न्यूनतम तापमान में लगातार गिरावट हुई थी जो 9 नवम्बर को 12.4 डिग्री तक गिरी थी। तभी बंगाल की खाड़ी और उसी समय अरब सागर की ओर से आने वाली नम हवाओं के कारण आसमान मेघमय होता चला गया।
खाड़ी की गर्म नमी युक्त हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान की गिरावट पर ब्रेक लगा और इसमें लगातार वृद्धि दर्ज की गई। 14 नवम्बर को अम्बिकापुर का न्यूनतम तापमान 18.8 डिग्री तक पहुंच गया था। अचानक वातावरण से ठंड के गायब हो जाने से रात में लोगों ने गर्मी और अकुलाहट भरी बेचैनी महसूस की थी।
इसके बाद भी दक्षिण भारत मे व्यवधान आते रहने से तापमान में आंशिक उतार चढ़ाव का दौर रहा। तापमान नियंत्रित रहा, उत्तर छत्तीसगढ़ में कुछ जगहों में बूंदाबांदी जबकि दक्षिण छत्तीसगढ़ में कहीं रिकार्ड वर्षा दर्ज हुई। नमी की अधिकता के कारण धुंध और कोहरों की चादरें निरन्तर वातवरण को ढंकती रही। प्रात: की क्षैतिज दृश्यता 30 से 40 मीटर तक सिमट गई।

बलरामपुर का न्यूनतम तामान 7.7 डिग्री
खाड़ी के शांत होने के साथ एक बार फिर उत्तरी शुष्क हवाओं ने दस्तक दी है और न्यूनतम तापमान में गिरावट आने लगी है। रविवार को अम्बिकापुर में सीजन के सबसे कम न्यूनतम 10 डिग्री दर्ज किया गया है।
जबकि बलरामपुर जिले के पूर्वी ग्रामीण क्षेत्रों में ठंड ज्यादा अनुभव किए गए हैं। यहां का न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री दर्ज किया गया है। हालांकि 29 नवम्बर से अंडमान सागर में पुन: एक न्यूनदाब बनने की संभावना से बादलों की आवाजाही का अनुमान है।

दिसंबर के बाद मौसम में बदलाव की संभावना
दक्षिण बंगाल सागर में 29 नवम्बर को एक हलचल न्यूनदाब के रूप में विकसित हो कर दक्षिण भारत की ओर बढ़ेगा। वहीं 30 नवम्बर को एक डब्ल्यूडी उत्तर भारत की ओर से भारतीय भूभाग में प्रवेश कर उत्तरी तथा मध्य भारत को प्रभावित करने की कोशिश करेगा।
इन दोनों व्यवधानों से उत्तरी छत्तीसगढ़ के मौसमी मिजाज में भी व्यवधान की संभावना रहेगी। इसके बाद २ दिसंबर तक फिलहाल ड्राई वेदर के साथ तापमानों में आंशिक उतार चढ़ाव रहेगा। इसके बाद उत्तर छत्तीसगढ़ में मौसम बदलाव दिखने की संभावना है।

दिन में भी रहा ठंड का एहसास
मौसम वैज्ञानिक के अनुसार तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। अंबिकापुर का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है जबकि अधिकतम 25.3 डिग्री रहा। वहीं बलरामपुर का न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री, जशपुर का 8.3 व कोरिया का 8.6 डिग्री तक रहा है।
इस कारण पूरे दिन ठंड का एहसास रहा। लोग पूरे दिन गर्म कपड़ों में नजर आए। वहीं शाम होते ही ठंड का असर और ज्यादा दिखना शुरू हो गया। ठंड से बचने के लिए रात्रि में लोगों को अलाव का भी सहारा लेना पड़ा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीPM मोदी तक पहुंची अल्मोड़ा की 'बाल मिठाई', स्टार शटलर लक्ष्य सेन ने ऐसा पूरा किया अपना वायदाराजस्थान में 50 हजार अपराधियों की बनेगी'कुंडली' थाना स्तर पर बनेगा डोजीयरविश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर के खुले कपाट, दो साल बाद लौटी रौनकPetrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंCheapest Home Loan: ये बैंक दे रहे हैं सबसे सस्ता होम लोन, यहां देखिए पूरी लिस्टQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बातGama Pehlwan के 144वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल, एक दिन में खाते थे 6 देसी मुर्गे और 10 लीटर दूध
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.