America: FBI का बड़ा खुलासा, देशभर में सशस्त्र हमले की योजना बना रहे हैं ट्रंप समर्थक

HIGHLIGHTS

  • US Capitol Violence: FBI ने चेतावनी देते हुए कहा है कि उसे खुफिया जानकारी मिली है कि सभी 50 अमरीकी राज्यों की राजधानियों और वाशिंगटन डीसी ( Washington DC ) में सशस्त्र विरोध ( Armed Attack ) की योजना बनाई जा रही है।
  • आशंका जताई जा रही है कि 20 जनवरी को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ( Joe Biden ) के होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में ट्रंप समर्थक चरमपंथियों द्वारा घातक हिंसा की जा सकती है।

By: Anil Kumar

Updated: 12 Jan 2021, 08:16 PM IST

वाशिंगटन। अमरीकी संसद ( US Parliament ) में बीते 6 जनवरी को जो कुछ भी हुआ, वह लोकतांत्रिक देशों के इतिहास में काले अक्षरों से लिखा जाएगा। अमरीका में सत्ता हस्तांतरण को लेकर चल रहा सियासी घमासान अब हिंसक हो गया है। अमरीकी खुफिया जांच ऐजेंसी FBI ने कहा है कि पूरे देश में हिंसात्मक घटना को अंजाम दिए जाने की तैयारी की जा रही है।

दरअसल, कैपिटॉल हिल ( Capitol Hill ) में बीते 6 जनवरी को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump Supporters ) के समर्थकों ने धावा बोल दिया और अमरीका के 200 साल के लोकतंत्र के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब संसद के अंदर तोड़फोड़ की गई। ट्रंप समर्थकों ने जबरदस्त हिंसा फैलाई।

Trump को पद से हटाने के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी ने उपराष्ट्रपति माइक पेंस को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

अब FBI ने ये खुलासा किया है कि ट्रंप समर्थक देश के सभी 50 राज्यों में सशस्त्र हमले की योजना बना रहे हैं। FBI ने चेतावनी देते हुए कहा है कि उसे खुफिया जानकारी मिली है कि सभी 50 अमरीकी राज्यों की राजधानियों और वाशिंगटन डीसी ( Washington DC ) में सशस्त्र विरोध ( Armed Attack ) की योजना बनाई जा रही है।

आशंका जताई जा रही है कि 20 जनवरी को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ( Joe Biden ) के होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में ट्रंप समर्थक चरमपंथियों द्वारा घातक हिंसा की जा सकती हैं। ट्रंप समर्थकों और कट्टर दक्षिणपंथियों ने अपनी ऑनलाइन पोस्ट पर आने वाली कई तारीखों पर विरोध प्रदर्शन करने की बात कही है। देश भर के शहरों में 17 जनवरी को सशस्त्र प्रदर्शन और राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह पर वाशिंगटन डीसी में एक मार्च निकालने की भी योजना बनाई गई है।

16-24 के बीच हो सकता है सशस्त्र हमला

अमरीकी मीडिया रिपोर्ट्स से प्राप्त जानकारियों के आधार पर FBI ( Federal Bureau of Investigation) ने कहा है कि सभी 50 राज्यों की राजधानियों में 16 जनवरी से 24 जनवरी के बीच सशस्त्र हमला किया जा सकता है।

सबसे दिलचस्प बात ये है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने खुद 24 जनवरी तक राष्ट्रीय राजधानी के लिए एक आपातकालीन घोषणा जारी की है। इधर ट्रंप के अन्य समर्थक समूह भी 20 जनवरी को मिलियन मिलिशिया मार्च की योजना बना रहे हैं।

US Capitol Violence के बाद ट्विटर ने 70 हजार से ज्यादा अकाउंट किए बंद

आपको बता दें कि 20 जनवरी को डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन अमरीका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेंगे, जबकि कमला हैरिस अमरीका की पहली अश्वेत महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेंगी।

शपथ ग्रहण समारोह से पहले किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोकने के लिए वाशिंगटन डीसी को एक किले में परिवर्तित किया जा रहा है। पेंटागन ने राष्ट्रीय राजधानी में 15,000 से अधिक अतिरिक्त नेशनल गार्ड सैनिकों को तैनात करने की मंजूरी दी है। नेशनल गार्ड ब्यूरो के प्रमुख आर्मी जनरल डैनियल आर. होकनसन ने बताया कि सोमवार तक शहर में 6,000 राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड ही तैनात किए जा चुके हैं।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned