अमरीका: मंदिर के बाहर हिन्दू पुजारी पर हमला, भारत ने त्वरित कार्रवाई का किया स्वागत

अमरीका: मंदिर के बाहर हिन्दू पुजारी पर हमला, भारत ने त्वरित कार्रवाई का किया स्वागत

Anil Kumar | Updated: 22 Jul 2019, 05:36:23 PM (IST) अमरीका

  • Attack on Swami Harish Chander Puri: अमरीका में मंदिर के बाहर 52 वर्षीय एक शख्स द्वारा किया गया हमला।
  • राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा महिला सांसदों को लेकर नस्लीय टिप्पणी करने के बाद घटी है यह घटना

न्यूयॉर्क। अमरीका में एक हिन्दू पुजारी पर हमले की खबर सामने आई है। अमरीकी मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि 52 वर्षीय एक शख्स ने हिन्दू पुजारी पर हमला किया है। शख्स ने पुजारी पर उस वक्त हमला किया जब वह न्यूयॉर्क के प्लोरल पार्क स्थित एक मंदिर के पास अपनी धार्मिक वेशभूषा में सड़क से गुजर रहे थे।

PIX 11 न्यूज चैनल के अनुसार, स्वामी हरिश चंदर पुरी ने ( Swami Harish Chander Puri ) बताया कि गुरुवार को स्थानीय समयानुसार सुबह 11 बजे ग्लेन ओक्स में शिव शक्ति पीठ के पास जब वह अपने धार्मिक वेशभूषा में सड़क पर जा रहे थे तभी एक आदमी पीछे से आया और उन्हें मारना शुरू कर दिया।

सुनसान खेत के कुएं पर मिला था पुजारी का शव, मौत के मामले में पुलिस ने किया राजफाश

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि 18 जुलाई को हुई हमले में पुजारी के शरीर पर गंभीर चोटें आई हैं, जिसमें उनका चेहरा भी शामिल है। पुजारी ने चैनल को बताया कि 'मैं चोट की वजह से तकलीफ में हूं'।

स्वामी हरिश चंदेर पुरी

आरोपी गिरफ्तार

इस मामले की शिकायत पुलिस को मिलने के बाद जांच में जुटी पुलिस ने हमले के सिलसिले में 52 वर्षीय सर्जियो गौविया नामक शख्स को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उस पर हमला, उत्पीड़न और एक हथियार रखने का मामला दर्ज किया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि कहीं यह हमला घृणा अपराध के तौर पर तो नहीं किया गया है। मंदिर में नियमित रूप से उपस्थित होने वाले कुछ लोगों ने कहा कि उनका मानना है कि पुजारी को निशाना बनाया गया था। घटना के दौरान हमलावर ने चीखते हुए कहा, 'यह मेरा पड़ोसी है'।

पुजारी दंपती की आत्महत्या के खुलासे के करीब पुलिस, सुसाइड नोट में दो महिलाओं का नाम

बता दें कि यह घटना ठीक अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) के एक बयान के बाद आया है जिसमें ट्रंप ने चार महिला सांसदों पर नस्लीय टिप्पणी करते हुए कहा था कि वे जहां से आएं वहां लौट जाएं। इन चार डेमोक्रेटिक कांग्रेस महिला में मिनेसोटा के इल्हान उमर भी शामिल हैं जो एक सोमाली मूल के अमरीकी नागरिक हैं।

ट्रंप ने ट्वीट करते हुए कहा था 'हमारा देश स्वतंत्र, सुंदर और बहुत सफल है। यदि आप हमारे देश से घृणा करते हैं, या यदि आप यहां खुश नहीं हैं, तो आप छोड़ सकते हैं!'

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned