America: President Trump के खिलाफ लोगों में बढ़ रहा रोष, कई शहरों में व्यापक Protest

HIGHLIGHTS

  • अमरीका ( America ) में शनिवार को कई शहरों में ट्रंप के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन ( Demonstration ) किया गया।
  • प्रदर्शनकारी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) द्वारा प्रमुख शहरों में फेडरल एजेंटों ( Fedral Agent ) की संख्या बढ़ाने की योजना के खिलाफ हैं।
  • पुलिस ने हिंसक प्रदर्शन करने, पुलिस पर हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में 16 लोगों को गिरफ्तार ( Arrest ) किया है।

By: Anil Kumar

Updated: 26 Jul 2020, 06:51 PM IST

सिएटल। अमरीका ( America ) में नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव ( Presidential Election ) होने वाले हैं और इसके लिए दोनों ही मुख्य पार्टियों के उम्मीदवार जोर-शोर से प्रचार अभियान में लग गए हैं। लेकिन हाल के दिनों में कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जिससे अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है।

अमरीका में शनिवार को कई शहरों में ट्रंप के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन ( Demonstration ) किया गया। लोगों में ट्रंप के प्रति रोष बढ़ता ही जा रहा है। सिएटल शहर में प्रदर्शनकारियों ने उग्र प्रदर्शन करते हुए एक जेल के बाहर कंस्ट्रक्शन ट्रेलरों में आग लगा दी। इन प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने फ्लैशबैंग ग्रेनेड और काली मिर्च स्प्रे का इस्तेमाल किया।

Trump की कार्रवाई से भड़के China ने किया करारा पलटवार, चेंगदू शहर में US Embassy बंद करने का दिया आदेश

बताया जा रहा है कि ये सभी प्रदर्शनकारी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) द्वारा प्रमुख शहरों में फेडरल एजेंटों ( Fedral Agent ) की संख्या बढ़ाने की योजना के खिलाफ हैं। वाशिंगटन राज्य के कई शहरों में बीते कई सप्ताह से इस तरह के व्यापक प्रदर्शन देखने को मिल रहा है।

16 प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

राष्ट्रपति ट्रंप के फैसले के खिलाफ प्रदर्शनकारियों ( Protest Against Donald Trump ) ने उग्र प्रदर्शन करते हुए आगजनी और तोड़फोड़ कर अपने गुस्से का इजहार किया। गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने कारों के टायर काट दिए और ट्रेलर की खिड़कियों को भी तोड़ दिया। पुलिस ने बताया है कि इस तरह का हिंसक प्रदर्शन करने, पुलिस पर हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

सिएटल में व्यापक विरोध-प्रदर्शन

आपको बता दें कि अमरीका के कई राज्यों के कई शहरों में बीते कई सप्ताह से व्यापक विरोध-प्रदर्शन हो रहा है। इसमें सबसे आगे अमरीकी राज्य ओरेगन ( US State Oregon ) के सबसे बड़े शहर सिएटल प्रदर्शन ( Protest In Seattle ) का केंद्र बन गया है। यहां पर पिछले दो महीने से रात में नस्लवाद और पुलिस की बर्बरता के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। इन प्रदर्शनों की शुरूआत अमरीकी-अफ्रीकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड ( George Floyd Death ) की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद हुई थी।

University और विदेशी छात्रों के दबाव में झुकी Trump Administration, वीजा रद्द करने का फैसला लिया वापस

सिएटल के अलावा पोर्टलैंड में भी राष्ट्रपति ट्रंप के आदेश के खिलाफ जबरदस्त विरोध प्रदर्शन हो रहा है। शनिवार को एक ब्लैक मिलिशिया के तीन सदस्यों को लुइसविले केंटकी में ब्लैक लाइव्स मैटर ( Black Lives Matter ) के विरोध प्रदर्शन में गोली मार दी गई। इसको लेकर भी लोगों में भारी गुस्सा है।

पुलिस ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए हस्तक्षेप किया, जिसके बाद लोग भड़क गए और प्रदर्शन हिंसक और बेकाबू हो गया। रातभर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प चलती रही। फिलहाल, ये मामला थमता नजर नहीं आ रहा है और ऐसा अनुमान जताया जा रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप को चुनाव में इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

US President Donald Trump
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned