America: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राष्ट्रपति बिडेन ने यूरोप और दक्षिण अफ्रीका के यात्रियों पर लगाया प्रतिबंध

HIGHLIGHTS

  • Corona New Strain: राष्ट्रपति जो बिडेन ने ट्रंप सरकार के फैसले को पलटते हुए यूरोप ( Europe ) और दक्षिण अफ्रीका ( South Africa ) के यात्रियों पर अमरीका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।
  • कोरोना का नया स्ट्रेन B1351 सामने आने के कारण ही दक्षिण अफ्रीका से यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है।

By: Anil Kumar

Updated: 26 Jan 2021, 05:30 PM IST

वाशिंगटन। सत्ता पर काबिज होने के साथ ही अमरीकी राष्ट्रपति जो बिडेन ( US President Jo Biden ) सक्रिय हो गए हैं और ताबड़तोड़ फैसले ले रहे हैं। अपने कार्यकाल के पहले ही दिन 15 अहम मुद्दों पर बिडेन ने हस्ताक्षर कर अपने इरादे स्पष्ट कर दिए। वहीं अब बिडेन ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Ex President Donald Trump ) के एक फैसले को पलट दिया है।

जो बिडेन ने ट्रंप सरकार के फैसले को पलटते हुए यूरोप ( Europe ) और दक्षिण अफ्रीका के यात्रियों पर अमरीका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है। पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने कार्यकाल के अंतिम दिनों में एक एक कार्यकारी आदेश जारी किया था, जिसमें उन्होंने यूरोप, ब्रिटेन, ब्राजील और आयरलैंड गणराज्य के नागरिकों पर से अमरीका के यात्रा प्रतिबंध को हटा लिया था।

दिग्गज कारोबारी बिल गेट्स ने लगवाया Corona Vaccine, फिर कही इतनी बड़ी बात

इस संबंध में व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन पाकी ने बताया है कि कोरोना के नए स्ट्रेन ( Corona New Strain ) को देखते हुए यूरोप और दक्षिण अफ्रीका के नागरिकों पर यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है। राष्ट्रपति जो बिडेन ने मेडिकल टीम की सलाह पर दोनों स्थानों से यात्रा पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है।

कोरोना का नेगेटिव रिपोर्ट का सबूत दिखाना अनिवार्य

प्रेस सचिव जेन पाकी ने आगे बताया कि राष्ट्रपति बिडेन ने यूरोप के शेंगेन क्षेत्र, ब्रिटेन, आयरलैंड और ब्राजील के लिए पहले से लगाए गए प्रतिबंधों को जारी रखने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना के न्यू स्ट्रेन के तेजी से फैलने की संभावनाओं के बीच इस खतरनाक स्थिति में अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबंध हटाना उचित नहीं है। कोरोना का नया स्ट्रेन B1351 सामने आने के कारण ही दक्षिण अफ्रीका से यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है।

जो बाइडेन का बड़ा ऐलान, 6.50 लाख सरकारी वाहनों के बेड़े को इलेक्ट्रिक व्हीकल से बदलेंगे

पाकी ने आगे बताया कि आज (26 जनवरी) से अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए अमरीका में कोरोना के निगेटिव टेस्ट का सबूत दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है। यह टेस्ट तीन दिन से पुराना नहीं होना चाहिए। इसके अलावा अमरीकी विदेश मंत्रालय ने भी अपने नागरिकों से आग्रह किया है कि वे अनावश्यक यात्रा से बचें। अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में जो नियम हैं, उसका कड़ाई के साथ पालन करें।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned