नॉर्थ कोरिया को सबक सिखाने के लिए साउथ कोरिया के साथ अमरीका ने शुरू की तैयारी

ashutosh tiwari

Publish: Oct, 13 2017 06:45:12 (IST)

America
नॉर्थ कोरिया को सबक सिखाने के लिए साउथ कोरिया के साथ अमरीका ने शुरू की तैयारी

अमरीका दक्षिण कोरिया के साथ युद्धाभ्यास कर रहा है।

सियोल। दक्षिण कोरिया और अमरीका की नौसेनाएं अगले सप्ताह कोरियाई प्रायद्वीप में संयुक्त युद्धाभ्यास करेंगी। समाचार एजेंसी 'योनहप' के अनुसार, इन दोनों पक्षों की 16 से 26 अक्टूबर के बीच पूर्वी सागर और पीला सागर में मैरीटाइम काउंटर स्पेशल ऑपरेशंस एक्सरसाइज (एमसीएसओएफईएक्स) करने की योजना है। जानकारी के मुताबिक इस प्रशिक्षण का उद्देश्य (अमेरिका के) 7वें बेड़े के संचालन क्षेत्र में संचार और साझेदारी को बढ़ावा देना है। तो वहीं रक्षा मामलों के जानकारों का मानना है कि उत्तर कोरिया से बढ़ते तनाव को देखते हुए ये अभ्यास किया जा रहा है। इस अभ्यास में भाग लेने वाली अमरीकी नौसेना इकाइयों में यूएसएस रोनाल्ड रीगन (सीवीएन-76) और दो अरली बर्क-श्रेणी के विध्वंसक, यूएसएस स्टेथेम और यूएसएस मस्टिन शामिल हैं।

तानाशाह ने फिर किया परमाणु परीक्षण?
वहीं दूसरी ओर नॉर्थ कोरिया की ओर से जारी परमाणु परीक्षण कार्यक्रम के सिलसिले के बाद परीक्षण स्थल के निकट गुरुवार रात को भूकंप के झटके महसूस गिए गए। इस भूकंप की तीव्रता 2.9 के आसपास मापी गई है। वहीं साउथ कोरिया के एक्सपर्ट का मानना है कि भूकंप के ये झटके नॉर्थ कोरिया की ओर से किए गए परमाणु परीक्षण का परिणाम है। इस एक्सपर्ट ने प्योंगयांग पर एक ओर हाइड्रोजन बम परीक्षण करने का आरोप लगाया है। हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई कि भूकंप के ये झटके प्राकृतिक थे या फिर हाइड्रोजन बम परीक्षण का परिणाम है।

एक्सपर्ट ने बताया परमाणु परीक्षण
उधर, यूएस जिऑलजिकल सर्वे के अनुसार भूकंप स्थानीय समय के मुताबिक देर रात 1 बजकर 41 मिनट पर 5 किलोमीटर की गहराई पर आया। जबकि भूकंप का केंद्र प्युंगये-री परमाणु परीक्षण स्थल के उत्तर में था। इस अमरीकी एजेंसी के हवाले से खबर आई है कि नॉर्थ कोरिया के पूर्व परमाणु परीक्षण स्थल पर हुई। हालांकि भूकंप के लक्षणों पर अभी विचार चल रहा है। बताया गया कि अभी इस बात की पुष्टि नहीं की जा सकती कि भूकंप के ये झटके प्राकृतिक कारणों से थे या फिर मानवजनित है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned