अमरीका में कई घंटों की देरी से पहुंचे अखबार, साइबर अटैक के कारण सिस्टम हुआ ठप

दावा किया जा रहा है कि एक तरह का मालवेयर अटैक था, जिस कारण मीडिया हाउसों के कार्यालयों के सिस्टम पूरी तरह से ठप हो गए।

By: Shweta Singh

Published: 31 Dec 2018, 03:51 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका में शनिवार को लोगों को कई घंटों की देरी से अखबार मिला। जानकारी मिल रही है कि ऐसा साइबर अटैक के कारण हुआ। दावा किया जा रहा है कि एक तरह का मालवेयर अटैक था, जिस कारण मीडिया हाउसों के कार्यालयों के सिस्टम पूरी तरह से ठप हो गए।

प्रॉडक्शन और प्रिटिंग से जुड़े कंप्यूटर हुए बंद

मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि सिस्टम बंद होने के कारण अखबार पब्लिश होने में देरी हुई और अखबारवालों के पास भी कॉपियां देरी से पहुंची। इसके नतीजतन लोगों के घरों तक भी अखबार की सप्लाई देरी से हुई। अमरीका के एक स्थानीय अखबार ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि शनिवार को पहले तो सभी ऑफिसों में सर्वर की परेशानी हुई। इसके बाद वहां के कई बड़े अखबारों के प्रॉडक्शन और प्रिटिंग से जुड़े हुए ट्रिब्यून पब्लिशिंग का कंप्यूटर खराब हो गया।

कई-कई घंटों की देरी से मिला अखबार

बताया जा रहा है कि इसके चलते एलए टाइम्स, सैन डिएगो यूनियन ट्रिब्यून, न्यूयॉर्क टाइम्स, वॉल स्ट्रीट जनरल के डिस्ट्रीब्यूशन पर असर पड़ा। हालांकि किसी रिपोर्ट में यह साफ नहीं है कि इस अटैक के कारण कितने सब्सक्राइबर प्रभावित हुए हैं, लेकिन ऐसी जानकारी मिल रही है कि काफी लोगों को कई-कई घंटों की देरी से अखबार मिला।

हमलावरों के बारे में कोई जानकारी नहीं

इससे जुड़े एक सूत्र का कहना है कि इस हमले का मकसद खासकर सर्वर को बंद करना और इंफ्रास्ट्रक्चर पर प्रभाव डालना था। इस संबंध में वहां के होमलैंड सिक्योरिटी डिपार्टमेंट ने एक बयान में कहा कि हमें कथित तौर पर हुए मालवेयर अटैक के बारे जानकारी है, जिस कारण कई अखबार प्रभावित हुए हैं। हम सरकार और इससे संबंधित उद्योग साझेदारों के साथ मिलकर इस मामलें को अच्छी तरह समझने की कोशिश कर रहे हैं। आपको बता दें कि डिपार्टमेंट ने हमलावरों के बारे में कुछ नहीं कहा है। डिपार्टमेंट के मुताबिक अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned