डोनाल्ड ट्रंप-किम जोंग में 2 दिन चल सकती है मुलाकात, होटल भी हुआ बुक

डोनाल्ड ट्रंप-किम जोंग में 2 दिन चल सकती है मुलाकात, होटल भी हुआ बुक

Chandra Prakash Chourasia | Updated: 07 Jun 2018, 11:47:20 AM (IST) अमरीका

डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच मुलाकात पर सहमति बनती है तो सिंगापुर में होने वाला शिखर सम्मेलन दो दिन तक सकता है।

वाशिंगटन: अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन की मुलाकात को लेकर हर रोज नई खबरें आ रही हैं। अगर दोनों नेताओं के बीच मुलाकात पर सहमति बनती है तो सिंगापुर में होने वाला शिखर सम्मेलन दो दिन तक सकता है। खबर है कि अमरीकी अधिकारी दूसरे दिन की बैठकों का भी इंतजाम करेंगे।

बात बनी तो 2 दिन चलेगी मुलाकात

ट्रंप और किम जोंग का 12 जून को मिलना तय हुआ है और इसके अगले दिन ट्रंप स्वदेश लौटने वाले थे लेकिन सिंगापुर में अमरीकी अधिकारियों ने आकस्मिक ही दूसरे दिन भी ट्रंप और किम के बीच चर्चा पर विचार किया। हालांकि, अभी तक व्हाइट हाउस ने इसकी पुष्टि नहीं की है।

यह भी पढ़ें: प्रणब मुखर्जी को बेटी शर्मिष्ठा की सलाह: संघ और भाजपा करेगी आपका गलत इस्तेमाल

मुलाकात के लिए होटल भी बुक

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि यह स्पष्ट नहीं है कि यदि ट्रंप, किम जोंग के साथ दूसरे दिन की वार्ता के इच्छुक हैं या नहीं लेकिन उन्होंने बातचीत में लचीलेपन की इच्छा व्यक्त की है। यह शिखर सम्मेलन अमरीका और उत्तर कोरिया के प्रमुखों के बीच पहली ऐतिहासिक वार्ता होगी। यह बैठक 12 जून को सिंगापुर के समयानुसार सेंटोसा द्वीप के कैपेला होटल में होगी।

ट्रंप-किम की बैठक से सिंगापुर उत्साहित

इस ऐतिहासिक मुलाकात का साक्षी बनने से सिंगापुर बेहद उत्साहित है। इसीलिए सिंगापुर मिंट ने अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के बीच एक ऐतिहासिक बैठक से पहले तीन प्रकार के स्मारक सिक्के जारी किए। समाचार एजेंसी के मुताबिक, सोने, चांदी और बेस-मेटल वाले तीन स्मारक सिक्कों का अनावरण करते हुए कंपनी ने कहा कि वह सिक्के की ढलाई के जरिए ऐतिहासिक दस्तावेज बनाने को लेकर उत्साहित हैं।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी का दावा: भाजपा सरकार में 90 फीसदी सस्ती मिल रहीं हैं दवाएं

मुलाकात की याद ने जारी किए सिक्के

कंपनी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक बयान के अनुसार, यह पदक 'विश्व शांति के महत्वपूर्ण कदम' याद किए जाएंगे और सिंगापुर को 'पूर्व और पश्चिम के बीच एक आर्थिक और सुरक्षा प्रवेश द्वार' के रूप में चिन्हित करेंगे। सिक्का के एक तरफ दोनों देशों के संबंधित झंडे के साथ पृष्ठभूमि में दोनों नेताओं के बीच एक हाथ मिलाते हुए चित्र है, जबकि इसके विपरीत तरफ एक कबूतर 'विश्व शांति' के नारे के साथ दिख रहा है। सिंगापुर के स्मारक सिक्के सिर्फ कुछ हजार की संख्या में बनाए गए हैं और मिंट को मंगलवार को इनका प्री-आर्डर दिया जा सकता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned