Chicago में 20 हजार प्रदर्शनकारियों ने लिया हिस्सा, Washington में ‘No Justice No Peace’ तख्ती लिए सड़कों पर उतरे लोग

HIGHLIGHTS

  • अमरीका के शिकागो में जॉर्ज फ्लॉयड ( George Floyd ) के लिए न्याय की मांग करते हुए करीब 20,000 लोगों ने 'शिकागो मार्च ऑफ जस्टिस' में हिस्सा लिया।
  • वाशिंगटन में प्रदर्शनकारी ‘No Justice No Peace', 'Black Lives matters' और ‘Say Their Name’ जैसे स्लोगन लिखे तख्तियां लिए विरोध-प्रदर्शन में शामिल हुए।
  • अमरीका में इस तरह के प्रदर्शन 25 मई को मिनियापोलिस में अश्वेत अफ्रीकी-अमरीकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस कस्टडी में क्रूर हत्या के विरोध में हो रहे हैं।

 

By: Anil Kumar

Published: 07 Jun 2020, 04:47 PM IST

वाशिंगटन। अमरीकी अश्वेत नागिरक जॉर्ज फ्लॉयड ( George Floyd Death ) की पुलिस कस्टडी में मौत के बाद अमरीका ( Protest In America ) के कई शहरों में भड़की हिंसा लगातार 12वें दिन भी जारी रहा। इस दौरान प्रदर्शनकारी अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग तरह से विरोध जताने और न्याय की मांग को लेकर सड़कों पर उतरे।

अमरीका के शिकागो ( Protest In Chicago ) में जॉर्ज फ्लॉयड के लिए न्याय की मांग करते हुए करीब 20,000 लोगों ने 'शिकागो मार्च ऑफ जस्टिस' में हिस्सा लिया। प्रदर्शनकारियों ने शनिवार को पश्चिम शिकागो के एक पार्क में एकत्र होकर अपनी मांग को लेकर आवाज बुलंद की।

America: 75 वर्षीय बुजुर्ग को धक्का मारने वाले 2 पुलिसकर्मी निलंबित, विरोध में 57 अधिकारियों ने दिया इस्तीफा

इस दौरान सभी ने एक्टिविस्ट, कवियों और अन्य लोगों की बात सुनी, पुलिस की जवाबदेही तय करने और प्रणालीगत नस्लवाद ( Racism ) को खत्म करने की मांग की। साथ ही हिरासत में लिए गए सभी प्रदर्शनकारियों को छोड़ने और प्रदर्शनकारियों के साथ दुर्व्यवहार करने वाले सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाने की भी मांग की।

प्रदर्शनकारियों ने लेक शोर ड्राइव एक्सप्रेसवे की ओर मार्च किया। जब मार्च एक्सप्रेसवे के ओवरपास से गुजरा, तो सड़क पर मौजूद वाहनों में सवार लोगों ने अपना समर्थन जाहिर किया। विरोध प्रदर्शन और मार्च की पूरी प्रक्रिया शांतिपूर्ण थी।पुलिस ने कहा कि कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

वाशिंगटन में ‘No Justice No Peace’ के साथ सड़कों पर उतरे लोग

अमरीका की राजधानी वाशिंगटन डीसी ( Protest In Washington DC ) में हजारों की संख्या में लोगों ने सड़क पर उतर कर विरोध जताया। प्रदर्शनकारियों ने हाथों में तख्तियां लिए नारे लगाते हुए वाशिंगटन डीसी में मार्च निकाला। प्रदर्शनकारी ‘No Justice No Peace', 'Black Lives matters' और ‘Say Their Name’ जैसे स्लोगन लिखे तख्तियां लिए विरोध-प्रदर्शन में शामिल हुए।

इस प्रदर्शन को अमरीकी राजधानी में नस्लीय अन्याय ( Racial injustice ) और पुलिस की बर्बरता के खिलाफ सबसे बड़ा प्रदर्शन माना जा रहा है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, आठ दिनों तक विरोध प्रदर्शन के बाद देश भर के लोग शनिवार को नए सिरे से राजधानी के आसपास के स्थानों जैसे कि अर्लिंग्टन, वर्जीनिया में इकट्ठा हुए।

George Floyd death: प्रदर्शनकारियों पर कड़ी कार्रवाई को लेकर Donald Trump के खिलाफ मुकदमा

ये सब लिंकन मेमोरियल, कैपिटल हिल और व्हाइट हाउस जैसे गंतव्यों के लिए बढ रहे थे। इस दौरान उन्होंने नारे लगाते हुए सुना गया। एक समूह में प्रदर्शनकारी नारे लगा रहे थे, 'किसकी सड़कें? हमारी सड़कें।’ डी.सी. पुलिस ने सुबह 6 बजे से शुरू होने वाले शहर के अधिकांश यातायात क्षेत्र को बंद कर दिया। रात 12 बजे तक डीसी पुलिस ट्रैफिक ने अनुमान लगाया कि वहां लगभग 6000 प्रदर्शनकारी थे, जिनमें करीब 3000 लिंकन मेमोरियल में और लगभग इतने ही 16 वीं और आई स्ट्रीट में थे।

वाशिंगटन डीसी के मेयर मुरील बोसेर भी प्रदर्शन में शामिल

डी.सी. मेयर मुरील बोउसर ( Mayor Muriel Bowser ) ने शुक्रवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( President Donald Trump ) से प्रदर्शनकारियों के खिलाफ शहर में तैनात सैन्य बलों को वापस लेने का आग्रह किया था, उन्होंने व्हाइट हाउस के पास भीड़ का अभिवादन किया। उन्होंने व्हाइट हाउस ( White House ) को 'लोगों का घर' कहा साथ ही कहा कि आज वह 'हमारे शहर से सेना को दूर कर देंगी'। डी.सी. में शनिवार को विरोध प्रदर्शन शांति से हुआ।

Twitter ने Trump के खिलाफ उठाया एक और कदम, George floyd को श्रद्धांजलि देते एक वीडियो को हटाया

आपको बता दें कि पूरे अमरीका में इस तरह के प्रदर्शन 25 मई को मिनियापोलिस में अश्वेत अफ्रीकी-अमरीकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड ( African-American citizen George Floyd ) की पुलिस कस्टडी में क्रूर हत्या के विरोध में हो रहे हैं। अब तक कई जगहों पर उग्र प्रदर्शन हो चुका है, इसके कारण ट्रंप सरकार को मिलिट्री तैनात करनी पड़ी है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned