20 करोड़ 38 लाख में बिका महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का लिखा पत्र

20 करोड़ 38 लाख में बिका महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का लिखा पत्र

Mangala Prasad Yadav | Publish: Dec, 05 2018 04:44:13 PM (IST) अमरीका

वैज्ञानिक का एक मशहूर पत्र 20 करोड़ 38 लाख रुपये में नीलाम हुआ है। तीन जनवरी 1954 को लिखा यह पत्र विश्व में 'भगवान का पत्र' नाम से मशहूर है।

वाशिंगटनः दुनिया के सबसे बड़े वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का एक मशहूर पत्र अमरीका में 20 करोड़ 38 लाख रुपये में नीलाम हुआ है। तीन जनवरी 1954 को लिखा यह पत्र विश्व में 'भगवान का पत्र' नाम से मशहूर है। इस पत्र को आइंस्टीन ने अपनी मौत से एक साल पहले जर्मनी के दार्शनिक एरिक गटकाइंड को लिखा था। इस पत्र में जर्मनी के वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन का ईश्वर और धर्म को लेकर उनके विचारों का जिक्र है। दो पन्नो के इस पत्र की कीमत 10 करोड़ 58 लाख रुपये आंकी गई थी लेकिन खरीदने वालों की तादात लगातार बढ़ती देखकर इसके दाम बढ़ते गए। फिलहाल इस पत्र को खरीदने वाले शख्स के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पायी है।

भगवान के बारे में लिखा है पत्र
दरअसल अल्बर्ट आइंस्टीन को जर्मनी के दार्शनिक एरिक गटकाइंड ने अपनी किताब 'चूज लाइफ: द बिबलिकल कॉल टू रिवोल्ट’ की एक प्रति भेजी थी। इस किताब के जवाब के तौर पर आइंस्टीन ने एरिक को एक पत्र लिखा था जो 'भगवान का पत्र' नाम से मशहूर हुआ। पत्र में आइंस्टीन ने ईश्वर और धर्म को लेकर अपने विचार लिखे हैं। पत्र में उन्होंने 17वीं शताब्दी के यहूदी डच दार्शनिक बारुच स्पिनोजा का भी जिक्र किया है। जो देवता या भगवान में विश्वास नहीं रखते थे।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned