आईएस के निशाने पर 70 अमरीकी सैन्य अफसर

आईएस के निशाने पर 70 अमरीकी सैन्य अफसर
terror

आतंकी संगठन ने अपने समर्थकों से कहा है कि जहां अमरीकी सेना के अफसर मिले, उन्हें वहीं मार दें, उनके दरवाजों को खटखटाएं और सिर कलम करें, चाकुओं से गोदें, चेहरे पर गोली मारें या फिर बम से उड़ा दें।

इस्लामिक स्टेट (आईएस) के हैकरों ने एक सूची जारी की है। इसमें अमरीकी सेना के 70 से ज्यादा उन अधिकारियों के नाम हैं, जो सीरिया में आतंकी ठिकानों को नष्ट करने के लिए ड्रोन हमलों में शामिल रहे हैं। 


हैकरों ने आईएस समर्थकों से इन लोगों की हत्या करने को कहा है। हैकरों ने खुद को इस्लामिक स्टेट हैकिंग डिवीजन से संबद्ध बताया है। हैकरों ने अमरीकी सेना के 70 से अधिक सदस्यों के नाम, चित्र, उनके घर के पते ऑनलाइन जारी किए हैं। 


इसमें आतंकी संगठन के महिला और पुरुष समर्थकों से कहा गया है कि जहां अमरीकी सेना के ये अफसर मिले, उन्हें वहीं मार दें, उनके दरवाजों को खटखटाएं और सिर कलम करें, चाकुओं से गोदें, चेहरे पर गोली मारें या फिर बम से उड़ा दें। 


आतंकी संगठन ने यह भी दावा किया है कि ब्रिटिश रक्षा मंत्रालय में उनका एक गुप्तचर है। उसने उन लोगों की पहचान उजागर करने की धमकी भी दी है, जो ब्रिटिश रॉयल एयरफोर्स के ड्रोन ऑपरेटरों में शामिल हैं। 


आईएस ने यह भी दावा किया है कि ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय में उनका एक भेदिया हो सकता है तथा उसने भविष्य में खुफिया जानकारी प्रकाशित करने की धमकी दी है, जिससे ब्रिटेन की रॉयल एयर फोर्स के ड्रोन संचालकों की पहचान हो सकती है। 


आईएस की नई हिट लिस्ट का शीषर्क टारगेट-युनाइटेड स्टेट्स मिलिट्री है तथा इस ट्विटर के जरिए प्रसारित किया जा रहा है। हैकरों ने कहा, तुम्हारी सेना में कोई दम नहीं है, न ही तुम्हारे में कोई दम है जो सैनिकों को भेजने से इंकार कर रहे हैं। इसकी बजाय हजारों मील दूर बैठककर तुम लोग सिर्फ बटन दबाते हो।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned