अमरीका की पहली महिला वित्त मंत्री बनीं जेनेट येले, सीनेट ने 15 के मुकाबले 84 वोटों से दी मंजूरी

HIGHLIGHTS

  • अमरीकी इतिहास में पहली बार किसी महिला को बतौर वित मंत्री सरकार में जगह दी गई है। जानी मानी अर्थशास्त्री जेनेट येलेन ( Janet Yellen ) को अमरीका की वित्तमंत्री के रुप में नियुक्त किया गया है।
  • सीनेट ने सोमवार को 15 के मुकाबले 84 मतों से येनेट को वित्त मंत्री नामित किए जाने की स्वीकृति दे दी।

By: Anil Kumar

Updated: 27 Jan 2021, 11:18 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका में बीते साल 3 नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव के बाद हुए सत्ता परिवर्तन में कई रिकॉर्ड बने। जहां एक ओर अमरीकी इतिहास में जो बिडेन ( Joe Biden ) के तौर पर सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति ने 20 जनवरी को शपथ ली, तो वहीं भारतीय मूल की कमला हैरिस के तौर पर पहली अश्वेत महिला उपराष्ट्रपति भी चुना गया।

अब अमरीकी इतिहास में पहली बार किसी महिला को बतौर वित मंत्री सरकार में जगह दी गई है। जानी मानी अर्थशास्त्री जेनेट येलेन ( Janet Yellen ) को अमरीका की वित्तमंत्री के रुप में नियुक्त किया गया है। मंगलवार को येलेन को बिडेन सरकार में बतौर वित्त मंत्री शामिल किया गया। बता दें कि उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने येलेन को पद की शपथ दिलाई।

America में आखिरकार बदल गई सत्ता, जो बिडेन बने सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति, कमला हैरिस बनीं पहली अश्वेत महिला उपराष्ट्रपति

येलेन की नियुक्ति को मिली सीनेट की मंजूरी

आपको बता दें कि जेनेट येलेन की नियुक्ति को सीनेट की मंजूरी मिल गई है। सीनेट ने सोमवार को 15 के मुकाबले 84 मतों से येनेट को वित्त मंत्री नामित किए जाने की स्वीकृति दे दी। इसके साथ ही येलेन बिडेन सरकार के मंत्रिमंडल की तीसरी सदस्य बन गई हैं, जिनकी नियुक्ति को सीनेट की मंजूरी मिल गई है।

येलेन पर बतौर वित्त मंत्री कोरोना काल में गिरती अर्थव्यवस्था को संभालने की बड़ी और चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी होगी। मालूम हो कि 74 साल की येलेन इससे पहले अमरीका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की गवर्नर रह चुकी हैं। येलेन 2014 से 2018 के बीच केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की गवर्नर के पद पर कार्यरत थीं।

America: जो बिडेन ने ट्रंप के फैसले को पलटा, H1B वीजा पर लिया बड़ा फैसला

मालूम हो कि जो बिडेन अमरीकी इतिहास में सबसे अधिक मतों से विजय होने वाले राष्ट्रपति हैं। जो बिडेन के 8 करोड़ से अधिक मत मिले। ऐसा पहली बार हुआ जब किसी राष्ट्रपति उम्मीदवार को 8 करोड़ से अधिक वोट मिले। हालांकि, दूसरी और अमरीकी इतिहास में ऐसा भी हुआ जब राष्ट्रपति चुनाव हारने वाले किसी उम्मीदवार को 7 करोड़ से अधिक वोट मिले हों। इस बार डोनाल्ट ट्रंप को 7 करोड़ से अधिक वोट मिले थे।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned