जेफरी एप्सटीन सेक्स ट्रैफिकिंग मामला: ट्रायल तक जेल में रहेंगे अमरीकी फाइनेंसर

  • American financier Jeffrey Epstein Case: एप्सटीन पर कम उम्र की लड़कियों के साथ यौन संबंध बनाने का है आरोप
  • अदालत ने सुनवाई करते हुआ कहा एप्सटीन को अभी जेल में ही रहना होगा

Anil Kumar

July, 2010:05 AM

न्यूयॉर्क। यौन आरोपों में फंसे अमरीकी अरबपति जेफरी एप्सटीन ( American financier Jeffrey Epstein ) सलाखों के पीछे ही रहेंगे। गुरुवार को अमरीकी न्यायाधीश ने मामले की सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया है।

एप्सटीन कम उम्र की लड़कियों की तस्करी के आरोपों के मामले में सुनवाई का इंतजार कर रहा था। एप्सटीन को उम्मीद थी की वह जेल से बाहर आ जाएंगे।

अमरीकी जिला न्यायाधीश रिचर्ड बर्मन ( Judge Richard Berman ) ने सुनवाई के दौरान जेफरी एप्सटीन के अनुरोध को खारिज कर दिया जिसमें उन्होंने अदालत से मांग की थी कि उन्हें सशस्त्र गार्ड के तहत उनके न्यूयॉर्क स्थित हवेली (इसकी कीमत $ 77 मिलियन है) में नजरबंद रखा जाए।

डोनाल्ड ट्रंप पर पूर्व महिला सहकर्मी के साथ KISS करने का आरोप, वीडियो आया सामने

एप्सटीन ने सुनवाई के दौरान खुद को निर्दोष बताया। हालांकि जेफरी एप्सटीन के वकीलों ने इस मामले में कुछ भी टिप्पणी नहीं की।

बता दें कि इससे पहले सोमवार को संघीय अभियोजकों ने जेफरी एप्सटीन द्वारा एक सेक्स ट्रैफिकिंग रैकेट को संचालित करने का पर्दाफाश करते हुए आपराधिक मुकदमा दर्ज किया था। जेफरी एप्सटीन पर आरोप है कि उसने दर्जनों कम उम्र की लड़कियों का यौन शोषण किया है।

American financier Jeffrey Epstein

जज ने फैसले में क्या कहा?

सुनवाई के दौरान अभियोजकों ने तर्क दिया कि जेफरी को जेल में ही रहना चाहिए, क्योंकि वह समाज के लिए खतरा हैं। यह भी कहा कि जेफरी अपने धन का उपयोग करके देश से भागने का भी प्रयास कर सकते हैं।

जेफरी एप्सटीन पर 2002 से 2005 तक 18 साल से कम उम्र की लड़कियों के साथ यौन संबंध बनाना और फिर दूसरे लड़कियों को भर्ती करने के लिए भुगतान करने का आरोप है।

अभियोजकों ने कहा जेफरी एप्सटीन के पास कर्मचारी थे जिन्होंने उन्हें लड़कियों को लाने में मदद की। हालांकि किसी कर्मचारी पर आरोप नहीं लगाया गया है।

दो महीने पहले बनाई थी गर्लफ्रेंड, हत्या कर शख्स ने ऑनलाइन पोस्ट कर दी डेड बॉडी की तस्वीर

गुरुवार को सुनवाई के दौरान अपने फैसले के बारे में और अधिक विवरण देने के लिए जारी एक लिखित आदेश में जस्टिस रिचर्ड बर्मन ने कहा कि एपस्टीन का अपने स्वयं के गार्ड के लिए भुगतान करने का प्रस्ताव 'विशेष रूप से समस्याग्रस्त' था क्योंकि अभियोजन पक्ष ने आरोप लगाया कि 'प्रतिवादी के कर्मचारी गैरकानूनी कामों में लगे हो सकते हैं।'

रिचर्ड बर्मन ने 31 जुलाई के लिए जेफरी एपस्टीन के मामले में अगली सुनवाई निर्धारित की है। जेफरी एप्स्टीन ने अदालत में दायर एक जवाब में कहा कि उनके पास $ 559 मिलियन की संपत्ति है, जिसमें उनके जेट, चार घर और दो निजी द्वीपों सहित संपत्ति शामिल है।

American financier Jeffrey Epstein

अमरीकी अरबपति पर शिकंजा

अभियोग के अनुसार 2002 और 2005 के बीच एप्सटीन ने 'लड़कियों की तस्करी' की। जिसमें उन्होंने लड़कियों को सैकड़ों डॉलर नकद दिए और लगभग 14 साल की कई लड़कियों के साथ मैनहटन स्थित अपर ईस्ट साइड होम में संबंध बनाए।

यही नहीं, एप्सटीन ने पाम बीच रिसोर्ट में कई तरह के अवैध लाभों के बदले कर्मचारियों और सहयोगियों को लड़कियों से संबंध बनाने का लालच दिया। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि एप्सटीन अपने कर्मचारियों पर 'लड़कियां लाने का दबाव' भी डालते थे।

हवेली से मिले कई सबूत

मैनहट्टन यूएस अटॉर्नी जियोफ्रे बर्मन ने सोमवार को एक बयान में कहा, 'इस तरह एप्सटीन ने यौन शोषण के लिए पीड़ित लड़कियों का एक विशाल नेटवर्क बनाया।' 66 साल के एप्सटीन को न्यू जर्सी के टेटेरबोरो एयरपोर्ट पर शनिवार रात गिरफ्तार किया गया था।

अमरीकी सिंगर आर केली चाइल्ड पोर्नोग्राफी समेत 13 मामलों में दोषी करार, पुलिस ने किया गिरफ्तार

बाद में रविवार को अपनी पहली रेड में पुलिस ने न्यूयॉर्क शहर में एपस्टीन की हवेली से कई लड़कियों की अश्लील तस्वीरों का भंडार जब्त किया। इसे बाद अरबपति अमरीकी फाइनेंसर पर एक सेक्स-ट्रैफिकिंग ऑपरेशन चलाने का आरोप लगाया गया।

कौन हैं जेफ्री एप्सटीन

जेफ्री एडवर्ड एप्सटीन एक अमरीकी फाइनेंसर, बैंकर हैं। हाल के दिनों में वह पंजीकृत यौन अपराधी के रूप में अधिक लोकप्रिय हुए हैं। एप्सटीन ने अपनी फर्म जे एपस्टीन एंड कंपनी के गठन से पहले निवेश बैंक बियर स्टर्न्स में अपना करियर शुरू किया।

वह यूनाइटेड स्टेट वर्जिन आइलैंड्स में रहते हैं। 2003 में एप्सटीन ने न्यूयॉर्क मैगजीन खरीदने के लिए बोली लगाई। इस काम से वह पहली बार सुर्खियों में आए थे।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned