अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव मामला: रॉबर्ट मुलर ने नए दस्तावेज जमा करवाए, डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ीं

अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव मामला: रॉबर्ट मुलर ने नए दस्तावेज जमा करवाए, डोनाल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ीं

Navyavesh Navrahi | Publish: Dec, 08 2018 06:02:15 PM (IST) | Updated: Dec, 08 2018 06:02:16 PM (IST) अमरीका

रिपोर्ट के अनुसार- अदालत में जमा दस्तावेज सीधे तौर पर ट्रंप की एक योजना की ओर इशारा करते हैं।

सन 2016 में अमरीका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में कथित रूसी हस्तक्षेप के मामले में विशेष वकील रॉबर्ट मुलर के अदालत में नए दस्तावेज जमा कर दिए हैं। इससे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की वैधानिक चुनौतियां बढ़ सकती हैं। आरोप था कि उनके राष्ट्रपति चुनाव अभियान और मास्को के तार परस्पर जुड़े हुए हैं। अमरीकी मीडिया में यह जानकारी आई है।

हालांकि इन दस्तावेजों में यह नहीं कहा गया कि क्या ट्रंप और उनके सहायकों ने रूसी लोगों के साथ मिलकर कोई षडयंत्र रचा था। जानकारों के अनुसार- इस दस्तावेज से पता चल है कि ट्रंप की परेशानियां जल्दी खत्म होने वाली नहीं हैं। दस्तावेज में कहा गया है कि प्रचार के दौरान ट्रंप के नजदीकी लोगों का एक रूसी व्यक्ति से संपर्क बना हुआ था। जबकि यह बात पहले सामने नहीं आई थी।

रिपोर्ट के अनुसार- अदालत में जमा दस्तावेज सीधे तौर पर ट्रंप की एक योजना की ओर इशारा करते हैं, जिसके तहत 2014 में एक महिला को चुप कराने की बात की गई थी। इसमें ट्रंप के राष्ट्रपति बनने से पहले ऐसे रूसी प्रयासों का जिक्र है जिससे उनके साथ एक राजनीतिक गठबंधन बन सके। जानकारों के अनुसार- दस्तावेज उस गहरी राजनीतिक और कानूनी दलदल के बारे में भी बताता है, जिसमें प्रशासन धंसा हुआ है।

मुलर ने यह दस्तावेत अमरीकी फेडरल कोर्ट में जमा करवाए हैं। इससे पहले उन्होंने कहा कि- ट्रंप के प्रचार अभियान के पूर्व मैनेजर पॉल मानाफोर्ट ने अभियोजकों के सामने झूठ बोला है कि व्हाइट हाउस और रूसी जासूसों के एक व्यक्ति के साथ संदिग्ध संबंध नहीं थे। उधर, राष्ट्रपति भवन और राष्ट्रपति ने किसी प्रकार की गड़बड़ी में शामिल होने से इंकार किया है।

Ad Block is Banned