अमरीका: चेहरे को पहचानने वाले साफ्टवेयर पर बैन की शुरुआत, सैन फ्रांसिस्को बना पहला शहर

अमरीका: चेहरे को पहचानने वाले साफ्टवेयर पर बैन की शुरुआत, सैन फ्रांसिस्को बना पहला शहर

Mohit Saxena | Publish: May, 15 2019 10:26:01 AM (IST) | Updated: May, 15 2019 02:11:17 PM (IST) अमरीका

  • सैन फ्रांसिस्को ने इसे घातक बताया
  • कहा, क्षमता का दुरुपयोग किया जा सकता है
  • तकनीक अभी भी अमरीका में बड़े पैमाने पर अनियंत्रित है

सैन फ्रांसिस्को। सैन फ्रांसिस्को ने मंगलवार को अमरीकी एजेंसियों और पुलिस द्वारा चेहरे की पहचान करने वाले सॉफ्टवेयर के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। वह अमरीका का पहला शहर बन चुका है। उसका कहना है कि सॉफ्टवेयर के कारण लोगों की पर्सनल जानकारियां सार्वजनिक हो रहीं थीं। गोपनीयता और नागरिक अधिकारों के पैरोकारों ने चिंतित किया है कि सामूहिक निगरानी के लिए क्षमता का दुरुपयोग किया जा सकता है और संभवतः अधिक झूठी गिरफ्तारियां हो सकती हैं। कानून स्थानीय व्यवसायों को विनियमित नहीं करेगा, और तकनीक अभी भी अमरीका में बड़े पैमाने पर अनियंत्रित है। लेकिन सैन फ्रांसिस्को के प्रतिबंध के कारण शहर की पहचान दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण मानी जा रही है। यहां पर सबसे शक्तिशाली तकनीकी फर्मों google और फेसबुक शामिल हैं, जिनके इंजीनियरों ने ऐसे सिस्टम तैयार किए हैं जो व्यवसाय और उपभोक्ता उपयोग के लिए चेहरे का पता लगा सकते हैं और पहचान सकते हैं।

पापुआ न्यू गिनी में 7.5 तीव्रता की भूंकप के जोरदार झटके, सुनामी की आशंका से दहशत

यह शहर बड़ी आईटी कंपनियों का हब है

सैन फ्रांसिस्को में दुनिया की दिग्गज कंपनियां स्थापित हैं। मगर यहां पर इस सॉफ्टवेयर पर प्रतिबंध लगाना बड़ी बात मानी जा रही है। जहां दुनिया भर में इस तकनीक को अपनाने की बात कही जा रही है। वहीं इस पर प्रतिबंध की बात आश्चर्य से कम नहीं है। यहां की वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के एक छात्र का कहना है कि यह प्रतिबंध हमें सिखाता की तकनीक का गलत इस्तेमाल करना हमारे लिए सही नहीं है। यह शहर बड़ी आईटी कंपनियों का हब है। इसके बावजूद इस पर बैन लगाया गया है, जो एक सहारीनिय कदम है। कोई भी संघीय कानून राष्ट्रव्यापी चेहरे की पहचान के उपयोग को नियंत्रित नहीं करता है, और देश भर में 50 से अधिक राज्य या स्थानीय पुलिस एजेंसियों ने आपराधिक संदिग्धों की पहचान करने या पहचान को सत्यापित करने के प्रयासों में चेहरे की पहचान प्रणाली का इस्तेमाल किया है। ओकलैंड, कैलिफ़ोर्निया और समरविले, मैसाचुसेट्स ने सैन फ्रांसिस्को के समान प्रतिबंधों की शुरुआत की है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned