पहले रेप फिर कत्ल, उसके बाद लाश के संग करता था महीनों तक बलात्कार

पहले रेप फिर कत्ल, उसके बाद लाश के संग करता था महीनों तक बलात्कार

Siddharth Priyadarshi | Publish: Dec, 07 2018 09:05:58 AM (IST) अमरीका

सीरियल किलर को सजा दिए जाने के सालों बाद उसके इन वहशी कर्मों के पीछे की बड़ी वजह सामने आई है

न्यूयार्क। एक ऐसा सीरियल किलर जो पहले महिलाओं का रेप कर उन्हें मौत की नींद सुलाता था फिर उनकी लाश के साथ लम्बे समय तक रेप करता था। औरतों को मौत की नींद सुलाने के बाद इस किलर के अंदर मानों कोई शैतान जाग जाता था ।इसके बाद वो दरिंदा महिला की लाश के साथ भी बलात्कार करता था। यह सनसनीखेज खुलासा अमरीका की न्यूयार्क पुलिस ने किया है। सीरियल किलर के आरोपी थियोडोर रॉबर्ट को सजा दिए जाने के सालों बाद उसके इन वहशी कर्मों के पीछे की बड़ी वजह सामने आई है।

क्या है मामला

बता दें कि वैसे तो दुनिया में सीरियल किलिंग की कई खौफनाक घटनाएं दहैं. जिनके बारे में सुनकर भी लोगों के रोंगटे खड़े हो जाएंगे। लेकिन अमरीका के थियोडोर रॉबर्ट का केस सबसे अलग है। वो एक ऐसा कुख्यात सीरियल किलर था, जिसने करीब 3 दर्जन महिलाओं को अपना शिकार बनाया। 24 नवंबर, 1946 को बर्लिंगटन में पैदा हुए इस शख्स की अपनी किशोर आयु से ही अपराधों में गहरी रूचि होने लगी थी । महिलाओं के प्रति गंभीर अपराधों के लिए इसका नाम जल्द ही पूरे अमरीका में मशहूर हो गया।सेक्स और यौन संबंधों को लेकर उसमें बहुत जिज्ञासा थी। सालों तक पुलिस की क्राइम ब्रांच की जांच में अब जाकर यह खुलासा हुआ है कि असल में वह सेक्स और यौन मामलों को लकेर बेहद कुंठित था। शायद यही वजह थी कि वो एक सीरियल किलर बन बैठा। बलात्कार और हत्या के अलावा उसने लूट की कई वारदातों को भी अंजाम दिया।

महिलाओं के लिए आतंक का पर्याय

थियोडोर रॉबर्ट महिलाओं के प्रति किये जाने वाले अपने अपराधों के लिए जल्द ही बेहद मशहूर हो गया। उसके निशाने पर अक्सर महिलाएं होती थीं। महिलाओं को बेरहमी से मारना जल्द ही उसका एक शौक बन गया। ये उसके लिए किसी नशे की तरह था। यह शख्स पहले किसी महिला या लड़की का अपहरण करता था। फिर उसके साथ रेप करता था। उसके बाद वह महिला या लड़की को अपनी हवस का शिकार बनाने के बाद बेरहमी के उनको मार डालता था। कहानी यहीं खत्म नहीं होती। अपने शिकार को मौत की नींद सुलाने के बाद इस किलर के अंदर का हैवान जाग जाता था। थियोडोर रॉबर्ट मारने के बाद महिला की लाश को ठिकाने नहीं लगाया था बल्कि उसकी लाश के साथ महीनों तक बलात्कार करता था। उसकी मौत के सालों बाद अब इस बात का खुलासा हुआ है कि वो ऐसा तब तक करता था, जब लाश सड़ नहीं जाती थी।

ड्राइंग रूम में रखता था महिलाओं के कटे सिर

महिलाएं टेड की कमजोरी थीं। वह महिलाओं की खूबसूरती का इस कदर दीवाना था कि बताया जाता है कि उसने अपने घर में 17 महिलाओं के सिर सजावट के रूप में रखे हुए थे। 1975 में इस हैवान को गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन वह कई बार भागने में कामयाब रहा। अदालत ने 24 जनवरी, 1989 को उस पर चल रहे मामलों की सुनवाई पूरी की और उसे मौत की सजा सुनाई। उसकी मौत के बाद भी इसके कारनामों के चर्चे अमरीका में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में मशहूर हो गए। पुलिस की अपराध अनुसंधान शाखा ने उसका केस 2007 में उच्च स्तरीय समिति को जांच के लिए भेजा। 2 दिसंबर 2018 को इस मामले की अंतिम रिपोर्ट सामने आई है। रिपोर्ट ने इस बात पर मुहर लगा दी है कि थियोडोर एक मनोविकार से ग्रसित था और सेक्स के प्रति विशेष आकर्षण के चलते वह महिलाओं के प्रति ऐसे अपराधों को अंजाम देता था।

Ad Block is Banned