दक्षिणी चीन सागर विवाद: अमरीका की चेतावनी, चीन भी अड़ा

अमरीका और यूरोपीय संघ ने चेतावनी दी कि चीन को दक्षिण चीन सागर में फिलीपींस के साथ क्षेत्रीय विवाद को सुलझाकर अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले का सम्मान करना चाहिए

By: राकेश मिश्रा

Published: 18 Feb 2016, 01:35 PM IST

वॉशिंगटन। अमरीका और यूरोपीय संघ ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा है कि उसे दक्षिण चीन सागर में फिलीपींस के साथ क्षेत्रीय विवाद को आगामी मई माह तक सुलझाकर अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले का सम्मान करना चाहिए। बता दें कि चीन पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा कर रहा है और उसने  इस विवाद में द हेग में इंटरनेशनल कोर्ट की मध्यस्थता को खारिज कर दिया है। इस मामले में चीन यूएन कन्वेंशन का हवाला देकर अपने दावों को सही ठहरा रहा है।

अमरीका की उप रक्षामंत्री एमी सीरिग्ट ने कहा कि अमरीका सहित यूरोपीय संघ से जुड़े देश आस्ट्रेलिया, जापान और दक्षिण कोरिया अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले के लिए तैयार हैं। यहां एक सेमीनार को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमें अंतरराष्ट्रीय कानूनों के पालन तथा फिलीपींस सहित आसियान देशों के साथ खड़े होने के लिये तैयार रहना चाहिए। यह विश्वसनीयता के लिए महत्वपूर्ण है। यह सभी के लिये अनिवार्य है।

उन्होंने कहा चीन के नाम संदेश में कहा कि अगर वह अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले को मानने से इंकार करता है तो यह उसका यह नकारात्मक कदम होगा। उन्होंने कहा कि हम इसके लिए आपको जवाबदेह ठहरायेंगे। यूरोपीय संघ के राजनीतिक मामलों के प्रमुख क्लॉस बोट््जेट ने कहा कि विश्व के देशों के मत के खिलाफ जाना चीन के लिये काफी मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय ट्रिब्यूनल के फैसले का सर्वसम्मति से समर्थन करते हैं और इसे बनाये रखना होगा। चीन के लिए यह कड़ा संदेश है तथा इसकी उपेक्षा करना उसके लिए कठिन होगा।

राकेश मिश्रा Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned