भारतीय मूल के शहीद पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने बताया 'नेशनल हीरो', कहा- जरूरी है मेक्सिको सीमा पर दीवार

भारतीय मूल के शहीद पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने बताया 'नेशनल हीरो', कहा- जरूरी है मेक्सिको सीमा पर दीवार

Siddharth Priyadarshi | Publish: Jan, 09 2019 02:19:47 PM (IST) | Updated: Jan, 09 2019 02:59:10 PM (IST) अमरीका

33 वर्षीय रोनिल सिंह की बीते साल 26 दिसंबर को ड्यूटी के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई थी

वाशिंगटन।अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मेक्सिको सीमा पर दीवार खड़ी करने की अपने मिशन को आगे बढ़ाते हुए मंगलवार को भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी रोनिल सिंह को नेशनल हीरो कहा है। बता दें कि 33 वर्षीय रोनिल सिंह की बीते साल 26 दिसंबर को ड्यूटी के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। रोनिल की हत्या की पीछे अवैध तरीके से रह रहे प्रवासी का हाथ है। टीवी पर राष्ट्र की नाम संबोधन में ट्रंप ने कहा कि यह मुद्दा हृदय और आत्मा का संकट है। राष्ट्रपति ने कहा कि अमरीका अब उन प्रवासियों को रहने की सुविधा नहीं दे सकता जो अवैध रूप से देश में प्रवेश करते हैं। राष्ट्रपति ने 18 दिनों के आंशिक सरकारी बंदी के लिए डेमोक्रेट नेताओं को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि इस मामले को आसानी से हल किया जा सकता था अगर उनके राजनीतिक विरोधियों ने सीमा फंडिंग पर उनकी मांगों को मान लिया होता।

क्या कहा ट्रंप ने

ओवल ऑफिस से पहली बार टीवी पर राष्ट्र की नाम संबोधन में ट्रंप ने कैलिफोर्निया में हुए भारतीय अमरीकी पुलिस अधिकारी की एक गैरकानूनी प्रवासी द्वारा की गई हत्या का जिक्र किया। ट्रंप ने इस मौके पर कहा कि देश को सुरक्षित रखने के लिए मैक्सिको की सीमा पर बनाई जाने वाली दीवार बहुत जरूरी है। ट्रंप ने एक बार फिर इस दीवार की जरुरत पर बल दिया और कहा कि फंड के लिए 5.7 अरब डॉलर कीजरुरत है। इस मौके पर डोनाल्ड ट्रंप ने सीमा की स्थिति को बढ़ता हुआ संकट करार दिया और कहा कि अगर समय रहते इसे रोका न गया तो जो यह करोड़ों अमरीकियों को बहुत तकलीफ देने वाला होगा। अमरीका-मेक्सिको सीमा पर 'बढ़ते मानवीय और सुरक्षा संकट' पर राष्ट्र को दिए एक प्राइमटाइम संबोधन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि सभी अमरीकी अनियंत्रित अवैध प्रवासन से आहत हैं।

पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने कहा 'नेशनल हीरो'

अपने भाषण में भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने 'नेशनल हीरो' कहा। बता दें कि रोनिल नामक अधिकारी ने जुलाई 2011 में ड्यूटी जॉइन की थी। 26 दिसंबर को उआकी हत्या कर दी गई थी। ट्रंप ने पिछले सप्ताह गुरुवार को रोनिल के सहकर्मियों और परिवार से भी बातचीत की। अपने भाषण में ट्रंप ने कहा, "क्रिसमस के अगले दिन पूरे अमरीका का दिल टूट गया था, जब एक अवैध प्रवासी ने हमारे नेशनल हीरो एक पुलिस अधिकारी की हत्या कर दी। हीरो का जीवन उसने छीन लिया जिसे देश में रहने का कोई अधिकार ही नहीं है।" आपको बता दें कि क्रिसमस के अगले दिन भारतीय मूल के 33 वर्षीय पुलिस अधिकारी कॉरपोरल रोनिल 'रॉन' सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हत्या करने वाला गैरकानूनी ढंग से अमरीका में घुसा था। आपको बताते चलें कि डेमोक्रेट नेताओं ने सीमा सुरक्षा के संबंध में तकनीक बढ़ाने के लिए समर्थन व्यक्त किया है, लेकिन सीमा दीवार के लिए समर्थन प्रदान करने से इनकार कर दिया है। उधर ट्रंप ने कहा कि वह बुधवार को डेमोक्रेट्स के साथ इस मुद्दे पर फिर से बात करेंगे।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned