ट्रंप-पुतिन सोमवार को करेंगे फिनलैंड में मुलाकात, वार्ता रद्द होने की अटकलों से अमरीका का इनकार

ट्रंप-पुतिन सोमवार को करेंगे फिनलैंड में मुलाकात, वार्ता रद्द होने की अटकलों से अमरीका का इनकार

mangal yadav | Publish: Jul, 14 2018 12:55:46 PM (IST) अमरीका

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात करेंगे। इस दौरान द्विपक्षीय संबंध पर चर्चा होने की उम्मीद है।

वाशिंगटन। वाइट हाउस का कहना है कि 2016 राष्ट्रपति चुनाव में रूस के कथित हस्तक्षेप की जांच के बावजूद डोनाल्ड ट्रंप और रूस के उनके समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के बीच बैठक तय योजना के तहत होगी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों नेता सोमवार को फिनलैंड की राजधानी हेलसिंकी में मुलाकात करेंगे। वाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने संवाददाताओं को बताया,"बैठक तय समय के अनुसार ही होगी।"

वार्ता रद्द होने की थी अटकलें
इससे पहले ऐसी अटकले थी कि अमरीका द्वारा रूस के 12 खुफिया अधिकारियों पर आरोप लगाए जाने की वजह से यह वार्ता रद्द हो सकती है। इस बीच रूस ने कहा कि वह बैठक को लेकर आशान्वित है। क्रेमलिन सलाहकार यूरी उशाकोव ने कहा,"हम ट्रंप को एक वार्ताकार साझेदार के तौर पर देख रहे हैं। हालांकि, द्विपक्षीय संबंध बुरे दौर में हैं लेकिन हमें इन्हें दुरुस्त करने के लिए शुरुआत तो करनी पड़ेगी।"

अमरीका-रूस में जारी है तनाव
व्लादिमीर पुतिन और डोनाल्ड ट्रंप उस समय मिल रहे हैं जब अमरीका और रूस के रिश्ते बेहद खराब स्थिति से गुजर रहे हैं। पिछले कुछ महीनों से ट्रंप और पुतिन के बीच जमकर बयानबाजी हुई है। कुछ महीने पहले रूसी राजनायिकों को अमरीका से निकालने और सीरिया में अमरीकी सैनिकों के मिसाइल हमले के दोनों देशों के रिश्ते बेहद तल्ख हो गए थे। हाल में ही जारी एक ओपिनियन पोल में यह बात भी सामने आई है कि अमरीका रूस का सबसे बड़ा दुश्मन है। ओपिनियन पोल के मुताबिक यूक्रेन, लातविया, लुथानिया और जर्मनी भी रूस के दुश्मन हैं।

ये भी पढ़ेंः सितंबर में व्लादिमीर पुतिन से मिल सकतें है किम जोंग, रूस में तैयारियों का जायजा लेते दिखा कोरियाई जेट

रिश्ते सुधारने की हो रही कोशिश
अमरीका और रूस बीती बातें को भूलकर आपसी रिश्ते सुधारना चाहते हैं। यही वजह है कि दोनों देशों के नेता फिनलैंड की राजधानी हेलसिंकी में मुलाकात करके नए रिश्तों की शुरूआत करना चाहते हैं।

Ad Block is Banned