बेलारूस में यात्री विमान को रोककर पत्रकार की गिरफ्तार को बाइडेन ने बताया शर्मनाक

अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बेलारूस के इस कृत को लेकर कड़ी आलोचना करते हुए अपने सलाहकारों को जिम्मेदार लोगों को चिन्हित करने को कहा है।

By: Mohit Saxena

Published: 25 May 2021, 01:35 PM IST

वाशिंगटन। अमरीका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बेलारूस में एक पत्रकार को गिरफ्तार करने के लिए यात्री विमान को रोकने की निंदा की है। उन्होंने बेलारूस के इस कृत को लेकर कड़ी आलोचना करते हुए अपने सलाहकारों को जिम्मेदार लोगों को चिन्हित करने को कहा है।

Read More: माली में सेना का दबदबा, अंतरिम राष्ट्रपति के साथ प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री को किया गिरफ्तार

बाइडेन के अनुसार वे इसका स्वागत करते हैं कि यूरोपियन यूनियन ने बेलारूस पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने की बात कही है। उन्होंनें अपनी टीम को दोषियों को पहचानने में लगा दिया है। बाइडेन ने कहा कि बेलारूस के पत्रकार रमन प्रातासेविच और अन्य हजारों राजनीतिक बंदियों की रिहाई की मांग उठाने वालों में अमरीका भी अपनी आवाज शामिल करता है।

पत्रकार और उनकी प्रेमिका को प्लेन से उतार

गौरतलब है कि बीते दिनों बेलारूस ने एक सरकार विरोधी पत्रकार को गिरफ्तार करने के लिए अपने लड़ाकू विमान भेज दिए। यह पत्रकार एक यात्री विमान से ग्रीस से लिथुआनिया की ओ जा रहा था। मगर इसी दौरान विमान को जबरन बेलारूस के मिंस्क में उतारा दिया गया। इसके बाद पत्रकार और उनकी प्रेमिका को प्लेन से उतार लिया गया। खबरों के अनुसार यह सब बेलारूस के राष्ट्रपति के आदेश पर किया गया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फ्लाइट को जबरदस्ती डाइवर्ट करने के लिए बेलारूस की तरफ से MIG-29 फाइटर जेट को भेजा गया था।

Read More: PNB घोटाले का आरोपी मेहुल चौकसी लापता, तलाश में जुटी एंटीगुआ की पुलिस

उड़ानें बंद करने का निर्णय

बेलारूस की इस कार्रवाई को लेकर पश्चिमी देशों ने कड़ी निंदा की है। यूरोपीय देशों ने इस कार्रवाई को एक 'आतंकी' घटना करार दिया है। यूरोपियन यूनियन ने इस घटना के बाद आर्थिक पाबंदी लगा दी है और उड़ानें भी बंद करने का निर्णय लिया है। इतना ही नहीं अब बेलारूस की एयरलाइन कंपनियां यूरोपियन एयरस्पेस और एयरपोर्ट्स का उपयोग नहीं कर सकेंगी।

26 वर्षीय पत्रकार रोमन प्रोतसेविच रयान एक यात्री विमान से लिथुआनिया की ओर जा रहे थे। मगर बेलारूस ने फ्लाइट को जबरन राजधानी मिंस्क में उतार दिया। पत्रकार को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ आखिरकार, विमान छह घंटे की देरी से अपने गंतव्य स्थान यानी लिथुआनिया पहुंचा।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned