चीन बना आतंकी अजहर मसूद की 'ढाल' तो US ने भी चेताया- रवैया बदलो, नहीं तो सख्ती करनी पड़ेगी

चीन बना आतंकी अजहर मसूद की 'ढाल' तो US ने भी चेताया- रवैया बदलो, नहीं तो सख्ती करनी पड़ेगी

Siddharth Priyadarshi | Publish: Mar, 14 2019 09:05:13 AM (IST) | Updated: Mar, 14 2019 02:15:14 PM (IST) अमरीका

  • सुरक्षा परिषद में चीन ने मसूद अजहर पर फिर लगाया वीटो
  • चीन ने फिर बचाया खूंखार आतंकी मसूद अजहर को
  • भड़के अमरीका ने दी सख्त चेतावनी

वाशिंगटन। चीन द्वारा आतंकी मसूद अजहर का साथ देने पर अमरीका बुरी तरह भड़क गया है। अमरीका ने चीन को एक बार फिर सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि चीन को अपने रवैये में बदलाव की जरुरत है। अमरीका ने चीन को नसीहत देते हुए कहा है कि उसे आतंक को लेकर गंभीर होना चाहिए। आपको बता दें कि लगातार चौथी बार चीन ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचा लिया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में आपत्ति दर्ज करने की सीमा खत्म होने के बाद चीन ने वीटो पावर का इस्तेमाल कर मसूद को एक बार फिर बचा लिया है। भारत स्थित अमरीकी दूतावास के प्रवक्ता ने चीन के इस कदम पर सख्त ऐतराज जताया है। प्रवक्ता ने कहा है कि संयुक्त राज्य अमरीका और चीन क्षेत्रीय स्थिरता और शांति के लिए पारस्परिक हित साझा करते हैं, और मसूद अजहर को आतंकी नामित करने में विफलता इस लक्ष्य में सबसे बड़ी बाधा है।

चीन पर भड़का अमरीका

संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद में चीन द्वारा वीटो पावर का इस्तेमाल कर मसूद अजहर को एक बार फिर बचा लिया गया। भारत ने चीन के इस कदम पर कठोर आपत्ति दर्ज कराई है। अब भारत को अमरीका का समर्थन भी मिल गया है। अमरीका की ओर से यूएनएससी में चीन को जमकर खरी-खोटी सुनाई गई। चीन को आड़े हाथों लेते हुए अमरीका ने कहा है कि अगर चीन लगातार इसी तरह अड़ंगे डालता रहा तो सुरक्षा परिषद के बाकी 4 देशों को मजबूरन कोई कड़ा कदम उठाना पड़ेगा। बयान में पाकिस्तान पर भी निशाना साधा गया है। चीन पर आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए अमरीका ने कहा है कि वह जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को आतंकी घोषित होने से बचाता रहा है।

सख्त रुख अपना सकते हैं पी3 देश

अमरीका ने चीन को सुधरने की धमकी देते हुए कहा है कि अगर इसी तरह चीन मसूद अजहर को बचाता रहा, तो सुरक्षा परिषद के अन्य सदस्यों को सख्त कदम उठाना पड़ेगा। गौरतलब है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद मसूद अजहर दुनिया भर के निशाने पर है। अजहर को आतंकी घोषित करने और उस पर प्रतिबंध लगाने के लिए भारत की कोशिशों को कई बड़े देशों का भी साथ मिला। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अमरीका, फ्रांस, ब्रिटेन ने मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव पेश किया। चीन के इस कदम के बाद भारत ने कहा है कि चीन के इस कदम से हम बहुत निराश हैं। भारत ने उन सदस्य देशों का धन्यवाद दिया, जिन्होंने प्रस्ताव का समर्थन किया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned