अमरीका: राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शी जिनपिंग को बताया चीन का 'राजा'

  • डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि चीन दौरे पर उन्होंन शी जिनपिंग को चीन का राजा कहकर पुकारा था।
  • 2017 में पहली बार ट्रंप आधिकारिक दौरे पर चीन गए थे।
  • शी जिनपिंग ने दो कार्यकाल से अधिक समय तक राष्ट्रपति नहीं बन सकने के नियम को बदल दिया था।

Anil Kumar

April, 0412:15 PM

अमरीका

वाशिंगटन। अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि जब वे पहली बार 2017 में चीन के दौरे पर गए थे उस वक्त उन्होंने जिनपिंग को चीन का राजा कह कर पुकारा था। बता दें ट्रंप ने ये बातें मंगलवार को राजधानी वाशिंगटन में रात्रिभोज के दौरान राष्ट्रीय रिपब्लिकन कांग्रेस कमेटी को संबोधित करते हुए कही। ट्रंप ने आगे कहा, हालांकि शी जिनपिंग ने नकारते हुए कहा कि वे चीन के राजा नहीं हैं। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप ने बताया कि शी ने कहा- ' मैं एक राजा नहीं हूं, मैं राष्ट्रपति हूं’ इसपर ट्रंप ने कहा कि नहीं, आप जीवन के लिए राष्ट्रपति हैं, इसलिए आप एक राजा हैं, इसपर वहां मौजूद लोग जमकर हंसने लगे। ट्रंप ने यह भी बताया कि हम दोनों के बीच द्वीपक्षिय वार्ता होने से पहले ग्रेट हॉल में चीन के लोगों के सामने मैंने शी से कहा 'आपके प्रति मेरा अतुल्नीय लगाव है, हमारे बीच की कैमिस्ट्री काफी अच्छी है। मैं समझता हूं कि हम दोनों (आप चीन के लिए और मैं अमरीका के लिए) एक शानदान काम करने जा रहे हैं। इसलिए मैं आपका बहुत-बहुत शुक्रगुजार हूं, बहुत-बहुत धन्यवाद।' ट्रंप ने मीटिंग खत्म होने के बाद फिर से शी का धन्यवाद किया और कहा इस शानदार आयोजन के लिए एक बार से बधाई।

अमरीका: डोनाल्ड ट्रंप के रिसॉर्ट में घुसने की कोशिश में चीनी महिला गिरफ्तार

2017 में चीन के दौरे पर गए थे ट्रंप

बता दें कि अमरीका के 72 वर्षीय राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहली बार आधिकारिक दौरे पर चीन पहुंचे थे। उस समय शी ने ट्रंप के स्वागत के लिए रेड कारपेट बिछाई थी। यह वह समय था जब चीन के 62 वर्षीय राष्ट्रपति जीनपिंग ने दो कार्यकाल पूरा करने के बाद खुद को जीवनभर के लिए चीन के राष्ट्रपति बने रहने को लेकर एक कानून पास किया था। दरअसल चीन में ऐसा नियम था कि दो कार्यकाल पूरा करने के बाद तीसरी बार कोई भी राष्ट्रपति नहीं बन सकता है। मालूम हो कि 1912 में चीन ने राजशाही शासन को समाप्त कर दिया था, जब किंग वंश के अंतिम सम्राट, पु यी को चीन गणराज्य स्थापित करने के लिए उखाड़ फेंका गया था। शी सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव और सेन्ट्रल मिलिट्री कमीशन के चेयरमैन का पदभार भी संभाल रहे हैं।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned