भाजपा पदाधिकारी ने मंच पर किया ऐसा कारनामा कि मंत्रियों के उड़ गए होश

मज़े की बात ये है कि बीजेपी वर्कर जिस वक़्त डीएम से उलझा था, उस वक़्त सरकार के दो मंत्री भी मौजूद थे।

By: Abhishek Gupta

Published: 10 Feb 2018, 10:41 PM IST

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का विरोध कराने वाली बीजेपी की आज उस समय कलई खुल गई जब बीजेपी के वर्कर ने यहां के डीएम पर जिला लूटने का आरोप लगा डाला। मज़े की बात ये है कि बीजेपी वर्कर जिस वक़्त डीएम से उलझा था, उस वक़्त सरकार के दो मंत्री भी मौजूद थे।

ग़ौरतलब हो कि शनिवार को ज़िले में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन था। तभी वहां असहज स्थित तब पैदा हो गई जब बीजेपी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने डीएम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा डाला। इस पर डीएम ने धमकी दे दी कि मैं आपकी शिकायत मुख्यमंत्री से करुंगी। जबकि प्रभारी मंत्री मोहसिन रज़ा बचाव करते-करते थक गये पर कोई समझने व मानने को तैयार नहीं हुए। वहीं सरकार के दूसरे मंत्री सुरेश पासी अपनी सीट पर बैठे बगले झांकते रहे, लेकिन उनको कुछ समझ नहीं आया।

डीएम पर ज़िला लूटने का लगा आरोप-

आपको बता दें कि डीएम से उलझे बीजेपी पदाधिकारी गोविंद सिंह ने अपने सरकार के मंत्रियों के सामनें जहां डीएम शकुंतला गौतम पर पूरा ज़िला लूटने का आरोप लगाया वहीं बात बढ़ जाने के बाद मुद्दे को असेम्बली में उठवाने की धमकी भी दी। यही नहीं सरकार के मंत्री के हस्तक्षेप पर उन्होंंने कहा कि हम अकेले में इनसे बात करेंगे नहीं।

वही इस मामले पर जिलाधिकारी ने कहा कि आज सामूहिक विवाह का आयोजन किया था। भाजपा नेता अपने कुछ लोगों के साथ आये और पीछे से शोर मचाने लगे। जिसके बाद मैंने कहा कि आप आगे से आकर मंत्री जी से बात करिए।इसी कारण वो उखड़ गए जबकि मैने कहा की इस तरह शोर मचाने से कार्यक्रम में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। भाजपा नेता द्वारा लगाया गया सारा आरोप बेबुनियाद है। उनके कार्यशैली को लेकर मैंने विरोध किया जिस कारण वो आक्रोशित हो गये। खादीग्राम उद्योग अधिकारी के बारे में शिकायत कर रहे थे, लेकिन आज तक वो मेरे सामने नहीं आये। अगर वो शिकायत करते हैं तो पूरे मामले की जांच कराई जाएगी।

मामले पर भाजपा जिला अध्यक्ष ने कहा कि मंच पर पीछे से कुछ लोग दरखास्त देने लगे जिसपर जिलाधिकारी ने कहा कि आप आगे से आकर बात करिए। इतना सुनते ही गोविंद सिंह को गुस्सा आ गया। जिलाधिकारी ईमानदार है और दिन रात मेहनत करके जिले के विकास में लगे हुए हैं। मंच पर इस प्रकार से नहीं होना चाहिए था, जो हुआ वो बिल्कुल ही गलत है। अगर गोविंद सिंह की कोई जायज शिकायत होगी उस पर बात करके सुलझाया जाएगा। कभी-कभी कार्यकर्ता संयम खो देते हैं और बाद में पश्चाताप करते हैं। जो आज हुआ वो बिल्कुल गलत है।

BJP Congress
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned