कांग्रेस जिलाध्यक्ष के भांजे की गुंडई, पीड़ित परिवार ने कहा मोबाइल छीनकर जबरन अपने खाते में ट्रांसफर किए पैसे

एक व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल के भांजे व ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि ने रिवाल्वर सटाकर अपने मुंशी को पहले बंधक बनाया फिर मुंशी और उसकी पत्नी के खाते से लाखों रूपए अपने एकाउंट में ट्रांसफर करवा लिए।

By: Karishma Lalwani

Published: 03 Mar 2021, 04:49 PM IST

अमेठी. जिले में पहले से ही बुरी तरह घिरी कांग्रेस अब कांग्रेस जिलाध्यक्ष के भांजे के कारनामों के चलते सत्ता पक्ष के निशाने पर आ गई है। एक व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल के भांजे व ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि ने रिवाल्वर सटाकर अपने मुंशी को पहले बंधक बनाया फिर मुंशी और उसकी पत्नी के खाते से लाखों रूपए अपने एकाउंट में ट्रांसफर करवा लिए। यही नही पीड़ित ने 700 बोरी धान जबरन जब्त कराने का आरोप लगाया है। पूरे मामले में उसने पुलिस में तहरीर दी है। मामला जायस कोतवाली क्षेत्र के नवीन मंडी बहादुरपुर का है। पीड़ित महावीर ने बताया की नवीन मंडी जायस बहादुरपुर में वो कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल के भांजे सोनू सिंघल के यहां 14 वर्षों से काम कर रहा। सोमवार को हमारे घर पर प्रोग्राम था। हम छुट्टी मांग रहे थे तो लड़ाई-झगड़ा किया हम चले आए। मंगलवार को जब हम गए तो 10 हजार की चोरी का आरोप लगाकर हमें बंधक बना दिया। उसके बाद हमसे पूछे तुम और तुम्हारी पत्नी के एकाउंट पर कितना पैसा है? जानकारी न देने पर धमकी दी और मोबाइल छीन कर अकाउंट डीटेल चेक की। इसके बाद उनके खाते से एक लाख 19 हजार व पत्नी के खाते से एक लाख 14 हजार रूपए ट्रांसफर करवा लिए।

Congress
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned