बेटियों ने संभाली कमान, की ताबड़तोड़ कार्रवाई

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में 'विश्व चिल्ड्रन्स डे' पर बेटियों ने थानों की कमान संभाली। थाना प्रभारी बन बेटियों ने अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाते हुए मिशन शक्ति और एन्टी रोमियो अभियान पर जोर दिया।

By: Karishma Lalwani

Published: 21 Nov 2020, 05:23 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

अमेठी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में 'विश्व चिल्ड्रन्स डे' पर बेटियों ने थानों की कमान संभाली। थाना प्रभारी बन बेटियों ने अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाते हुए मिशन शक्ति और एन्टी रोमियो अभियान पर जोर दिया। शुक्रवार को जिला मुख्यालय स्थित गौरीगंज कोतवाली में एसपी दिनेश सिंह की पहल पर अमेठी में 12वीं की छात्र को एक दिन के लिए कोतवाल की कमान सौंपी गई। एक दिन के लिए कोतवाल बनाए जाने पर युवती ने कहा कि बहुत गर्व महसूस हो रहा है कि उन्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी मिली है। इसी तरह छात्रा कहा कि दो समस्याएं आई थीं जिसमे पारिवारिक एक जमीन विवाद को लेकर थी। बतौर गौरीगंज थाने को कोतवाल हमने उनकी समस्याओं को गंभीरता से सुना और उस पर कार्रवाई की गई।

जमीन विवाद से जुड़े मामले ज्यादा

काजल ने कहा कि जमीन से संबंधित मामले ज्यादा आए हां। दोनों पक्षों को मैंने सुना है दोनों अपना-अपना दावा पेश कर रहे हैं लेकिन इनका एप्लीकेशन ले लिया गया है। मौके पर जाकर जांच की जाएगी जो सही होगा वही किया जाएगा। मिशन शक्ति और एंटी रोमियो को लेकर क्षेत्र में भ्रमण किया गया महिलाओं से संबंधित मामलों को ज्यादा फोकस किया जा रहा है।

यूनीसेफ द्वारा निर्देश

एएसपी दयाराम सरोज ने इस पर कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाल दिवस के मौके पर यूनीसेफ द्वारा निर्देश है कि जनपद में बेटियों को थानों की कमान दी जाए। अमेठी एसपी दिनेश सिंह के निर्देश पर जिले के सभी थाना, कोतवाली में बेटियों को एक दिन का कोतवाल बनाया गया है। इस तरह के प्रयास से बेटियों में निर्णय लेने की क्षमता में वृद्धि होगी इसके साथ साथ यह बेटियां नारी सशक्तिकरण, नारी स्वालंबन, एंटी रोमियो जैसे तमाम विभिन्न मुद्दों पर गहराई से जानकारी मिलेंगी।

Smriti Irani
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned